चार करोड़ ने चखा शिवभोजन थाली का स्वाद

thali

मुंबई 

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निर्देश पर महाविकास आघाड़ी सरकार ने महत्वाकांक्षी शिवभोजन योजना शुरू की है। इस योजना के तहत 26 जनवरी 2020 से 1 मई 2021 के बीच तकरीबन 4 करोड़ लोगों ने शिवभोजन थाली का स्वाद लिया है। इस बात की जानकारी खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल ने दी।    

26 जनवरी 2020 को शुरू हुई थी योजना

महाविकास आघाड़ी सरकार ने राज्य के गरीब नागरिकों के हितों को देखते हुए शिवभोजन नाम की महत्वाकांक्षी योजना खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण मंत्री छगन भुजबल के मार्गदर्शन में शुरू की। राज्य में यह योजना 26 जनवरी 2020 को शुरू की गई थी।

अब मुफ्त में दी जा रही थाली

योजना के अनुसार 10 रुपए में राज्य की गरीब जनता को शिवभोजन थाली उपलब्ध कराई गई। आगे कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए मार्च में सरकार ने केवल पांच रुपए में थाली देने की शुरुआत की, ताकि कोई भूखा न रहें। यह रियायती दर मार्च 2021 तक लागू थी। चूंकि कोरोना संक्रमण खत्म नहीं हुआ है और सरकार ने सख्त प्रतिबंध लगा दिए। ऐसे में अब शिवभोजन थाली मुफ्त में दी जा रही है। साथ ही सरकार ने शिवभोजन केंद्रों के प्रतिदिन के कोटे को डेढ़ गुना बढ़ा दिया है। पहले जो शिवभोजन केंद्र एक दिन में 100 थाली देते थे, अब वे 150 थाली वितरित कर रहे हैं।

योजना का दायरा तालुका स्तर तक बढ़ा

अप्रैल माह से शिवभोजन थाली का दायरा तालुका स्तर पर बढ़ा दिया गया है और हर जिले में शिवभोजन थालियों की संख्या पांच गुना तक बढ़ा दी गई है। साथ ही शिवभोजन के समय में बढ़ोतरी की गई है। अब थाली सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक उपलब्ध होगी। शहरी इलाकों में प्रति थाली 45 रुपए, जबकि ग्रामीण इलाकों में प्रति थाली 30 रुपए का अनुदान सरकार की तरफ से दिया जा रहा है। छगन भुजबल ने कहा कि हमारा लक्ष्य शिवभोजना थाली को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने का है। इस दिशा में हम काम कर रहे हैं।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget