आज से चार राज्यों में संपूर्ण लॉकडाउन

कई राज्यों ने बढ़ाई तालाबंदी की अवधि

lockdown

नई दिल्ली

देश में कोरोना की रफ्तार थमने का नाम ही नहीं ले रही है यही वजह है कि कोरोना की चेन तोड़ने के लिए देश में लगातार लॉकडाउन लगाने की बात हो रही है। कई राज्य सरकारों ने पहले से ही प्रदेश में लॉकडाउन लगा रखा है, जिसकी अवधि उन्होंने बढ़ा दी है, तो कई राज्यों में आज यानी 10 मई से संपूर्ण लॉकडाउन लगाया जा रहा है। हालांकि संपूर्ण लॉकडाउन को लेकर केंद्र की ओर से कोई फैसला नहीं लिया गया है।

आज यानी 10 मई से कर्नाटक, तमिलनाडु, राजस्थान और केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी संपूर्ण लॉकडाउन लग रहा है, जिसकी अवधि दो सप्ताह यानी की है। इन राज्यों में 10-24 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की गयी है। इन राज्यों में कोरोना संक्रमण आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने कड़े शब्दों में कहा है कि कोरोना की चेन तोड़ने के लिए लॉकडाउन ही एकमात्र उपाय है। 

स्टालिन स्वास्थ्य विशेषज्ञों की सलाह पर लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। इस दौरान इन प्रदेशों में आवश्यक सामानों और इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर सभी चीजें बंद रहेंगी। सभी दुकानें और निजी एवं सरकारी दफ्तर बंद रहेंगे। बार, स्पा, जिम, ब्यूटी पार्लर, सैलून, सिनेमा हाल, क्लब, पार्क भी लॉकडाउन के दौरान बंद रहेंगे. खाने पीने का सामान बेचने वाली दुकानें कर्नाटक में सुबह दस बजे तक और अन्य राज्यों में भी निर्धारित समय के लिए ही खुलेंगी. लॉकडाउन के दौरान काफी सख्ती की जायेगी और किसी को भी बाहर निकलने की इजाजत नहीं होगी।

यूपी और दिल्ली में 17 मई तक बढ़ाया लॉकडाउन

उत्तर प्रदेश और दिल्ली ऐसे राज्य हैं जहां कोरोना की रफ्तार भयावह है और मरने वालों का आंकड़ा भी काफी बढ़ा। इसे देखते हुए यहां लॉकडाउन पहले से जारी है, जिसे बढ़ाकर अब तक 17 मई तक कर दिया गया है। दिल्ली में इस दौरान कई तरह की पाबंदिया लगायी गयी हैं। दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर शादी समारोहों पर पूरी तरह पाबंदी रहेगी। ऐसे समारोह केवल घर या अदालत में ही आयोजित करने की अनुमति होगी और इसमें 20 से अधिक लोग एकत्रित नहीं होंगे। यह आदेश डीडीएमए ने दिया है। डीडीएमए ने कहा है कि जिला मजिस्ट्रेट, पुलिस उपायुक्त, संबंधित प्राधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि लोग आईएसबीटी, रेलवे स्टेशनों, मंडियों, दुकानों पर कोरोना संक्रमण के लिहाज से अनुकूल व्यवहार करें।

बिहार और झारखंड में भी लॉकडाउन

बिहार और झारखंड में भी कोरोना की रफ्तार रोकने के लिए लॉकडाउन लगाया गया है। झारखंड में लॉकडाउन 13 मई तक है, लेकिन इसे बढ़ाये जाने की पूरी संभावना है, क्योंकि प्रदेश में कोरोना का कहर जारी है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget