ट्रामा सेंटर के प्रोफेसर डॉ.संजीव गुप्ता ने दिया इस्तीफा

वाराणसी

पूर्वांचल के एम्स कहे जाने वाले चिकित्सा विज्ञान संस्थान, बीएचयू में इनदिनों जमकर अंतरकलह मची हुई है। एक दिन पहले जहां प्रो. एस के माथुर ने सर सुंदरलाल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक पद से इस्तीफा दे दिया वहीं शुक्रवार को ट्रामा सेंटर के प्रोफेसर इंचार्ज डा. संजीव कुमार गुप्ता ने इस्तीफा देकर विश्वविद्यालय प्रशासन को सकते में डाल दिया। प्रशासन की ओर से प्रो. गुप्ता काे मनाने का खूब प्रयास किया गया, लेकिन बाद में उन्होंने अपना मोबाइल ही आफ कर लिया। अब नए इंचार्ज को लेकर माथा-पचीसी चल रही है। उम्मीद है देर शाम तक कुछ फैसला हो जाएगा। संस्थान के जनरल सर्जरी के वरिष्ठ आचार्य प्रो. संजीव कुमार गुप्ता को ट्रामा सेंटर की उस समय जिम्मेदारी दी गई जब यहां पर अव्यवस्थाएं व अंतरद्वंद्व चरम पर थी। तत्कालिक इंचार्ज पर कई प्रकार के आरोप भी लगे थे। यहां तक कि तमाम मेडिकल छात्र एवं डाक्टर पर भी लामबंद हो गए थे। अब जो बीएचयू के सर सुंदरलाल अस्पताल से लेकर ट्रामा सेंटर तक कुर्सी के लिए राजनीति एवं एक-दूसरे के खिलाफ अंतरविरोध शुरू हुई तो प्रो. संजीव गुप्ता ने भी इस पद को छोड़ना ही मुनासिब समझा।इससे पहले अंतरविरोध के कारण ही गुरुवार को एनेस्थिसिया विभाग के हेड प्रो. एसके माथुर ने एमएस पद से इस्तीफा दे दिया, जिसके बाद जनरल मेडिसिन विभाग के प्रो. केके गुप्ता को इस पर अगले आदेश तक के लिए जिम्मेदारी दी गई है। सूत्र बताते हैं कि इन दिनों कुर्सी को लेकर संस्थान में जमकर गुटबाजी हो रही है। इसको लेकर बीएचयू ही नहीं बल्कि बाहर तक के भी कुछ अधिकारी नजर गड़ाए हुए हैं। दिल्ली और अन्य शहरों से भी अपने-अपने लोगों को कुर्सी पकड़ाने की होड़ एवं जोड़-जुगाड़ चल रही है। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget