भारत की मदद के लिए आगे आया अमेरिका

instruments

वाशिंगटन

अमेरिकी कंपनियां भारत को कोविड19 महामारी के प्रकोप का सामाना करने में मदद के लिए सहायता सामग्री बढ़ाने में लगा है। कंपनियां यहां से वेंटिलेटर और ऑक्सीजन कंसेंटेटर आदि भेजने में जुटी हैं ताकि वहां तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमित गंभीर मरीजों की जान बचाई जा सके। भारत में इस समय हर दिन 4 लाख से अधिक लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाये जा रहे है। मरीज अस्पताल में बेड और ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं। थर्मो फिशर ने शनिवार को यूनाइटेड एयरलाइन की मदद से भारत के लिए आवश्यक सहायता सामग्री की एक खेप रवाना की। कंपनी ने कहा कि हम विनम्रता के साथ कोविड19 का सामना करने के भारत के अपने साथियों वहां के लोगों की यह सहायता करना चाहते हैं। कंपनी की ओर से भेजी गई सामग्री में 46 लाख वायरल ट्रांसपोर्ट मीडियम ट्यूब भी हैं, जो वायरल के नमूनों को सूखने से और सूक्ष्म जीवाणुओं के प्रदूषण से बचाती हैं। भारत-अमेरिका रणनीतिक भागीदारी एवं मंच के अध्यक्ष मुकेश अघी ने इस मदद के लिए कंपनी के प्रति आभार जताया। अमेरिकन एयरलाइन्स ने कहा कि वह रेडक्रास के साथ मिल कर पूरी दुनिया में कोविड19 से बचाव में लोगों की मदद कर रही है। कंपनी एमवे ने अमेरिकी वाणिज्य मंडल के नेतृत्व में काम कर रहे एक ट्रस्ट को 5 लाख डॉलर का चंदा दिया है। इससे भारत को 1000 वेंटिलेटर और 25,0000 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनें भेजी जाएंगी।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget