यूपी में ब्लैक फंगस महामारी घोषित

लखनऊ

कोरोना वायरस से उबरने वाले कुछ लोगों के ब्लैक फंगस की चपेट में आने के मामलों को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार बेहद गंभीर हो गई है। टीम-9 के साथ शुक्रवार को समीक्षा बैठक में सीएम योगी आदित्यनाथ ने ब्लैक फंगस को महामारी घोषित करने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री के इस निर्देश के बाद स्वास्थ्य विभाग इस प्रक्रिया की कार्रवाई में जुट गया है। उत्तर प्रदेश में पोस्ट कोविड अवस्था में ब्लैक फंगस के संक्रमण की समस्या काफी बढ़ रही है। प्रदेश सरकार स्वास्थ्य विशेषज्ञों के परामर्श के अनुरूप प्रदेश इससे संक्रमित सभी के लिए समुचित चिकित्सकीय उपचार की व्यवस्था कर रही है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि केंद्र सरकार के निर्देशों के क्रम में कोविड की तर्ज पर ब्लैक फंगस को भी अधिसूचित बीमारी (महामारी) घोषित किया जाए। इस संबंध में आदेश आज ही जारी कर प्रभावी करा दिया जाए। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि कोरोना वायरस संक्रमण की तरह अधिसूचित बीमारी घोषित करने के बाद अब ब्लैक फंगस के साथ कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर से निपटने की तैयारी, टीकाकरण और चिकित्सा तंत्र पर फोकस करें।

कोरोना मुक्त गांव को बनाएं लक्ष्य

मुख्यमंत्री ने कहा कि गांवों को कोरोना से सुरक्षित रखने के उद्देश्य से संचालित वृहद टेस्टिंग अभियान के अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। निगरानी समितियों और आरआरटी टीमें बहुत सराहनीय कार्य कर रही हैं। प्रदेश में संक्रमण दर लगातार कम होता जा रहा है, ऐसे में इस प्रक्रिया को मिशन रूप में लिए जाने की जरूरत है। सभी गांवों में जागरुकता बढ़ाई जाए। ऐसे प्रयास हों जिससे कोरोना मुक्त गांव के संदेश को हर ग्रामवासी अपना लक्ष्य बनाए। उन्होंने कहा कि मेरा गांव- कोरोना मुक्त गांव के संदेश के अनुरूप पुलिस विभाग ने मेरी लाइन-कोरोना मुक्त लाइन का संकल्प लिया है।

 यह प्रयास प्रेरणास्पद है। सभी के सहयोग से ही प्रदेश में कोरोना की स्थिति पर प्रभावी नियंत्रण संभव हुआ है। कोरोना पर विजय प्राप्त करने में चिकित्साकर्मियों पुलिसकर्मियों, सभी स्वच्छताकर्मियों, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों आशा बहनों सहित प्रदेश के प्रत्येक नागरिक की भूमिका महत्वपूर्ण है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget