कोरोना से निकली ब्लैक फंगस महामारी

केंद्र ने सभी राज्यों को किया अलर्ट    पांच राज्यों में महामारी घोषित


नई दिल्ली

कोरोना महामारी के दौरान सामने आया ब्लैक फंगस अब केंद्र के लिए बड़ी चिंता बन गया है। केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को खत लिखकर ब्लैक फंगस के लिए अलर्ट किया है। साथ ही सभी राज्यों सरकारों से इसे महामारी एक्ट के तहत नोटेबल डिजीज घोषित करने को कहा है। यानी राज्यों को ब्लैक फंगस के केस, मौतों, इलाज और दवाओं का हिसाब रखना होगा।

राजस्थान, हरियाणा, तेलंगाना , गुजरात और तमिलनाडु इस ब्लैक फंगस को महामारी घोषित कर चुके हैं। दिल्ली में भी इसके मरीजों के इलाज के लिए अलग से सेंटर्स बनाए जा रहे हैं।

महाराष्‍ट्रः महाराष्ट्र में ब्लैक फंगस से राज्य में 1500 केस पाए गए और 500 लोग ठीक हुए, 850 पर इलाज चल रहा है। 

राजस्थानः 400 लोग ब्लैक फंगस की वजह से आंखों की रोशनी खो चुके हैं। जयपुर में 148 लोग इससे संक्रमित। जोधपुर में 100 मामले सामने आए। 30 केस बीकानेर और बाकी अजमेर, कोटा और उदयपुर में हैं। सरकार ने महामारी घोषित किया।

मध्यप्रदेशः ब्लैक फंगस के 239 मरीज आ चुके हैं। 10 मरीजों की मौत हो चुकी है, जबकि 174 अस्पतालों में हैं। इनमें 129 की सर्जरी हो चुकी है। 

दिल्लीः मरीज 300 के पार हो चुके हैं। इंजेक्शन की कमी होने के चलते ऑपरेशन करने पड़ रहे हैं। एम्स में एक सप्ताह में 80 मरीज भर्ती हुए हैं। 30 की हालत गंभीर है।

हरियाणाः पूरे प्रदेश में 177 मरीज हैं। इस संक्रमण को महामारी घोषित करने वाला हरियाणा पहला राज्य था। 

छत्तीसगढ़ः मरीजों की संख्या 100 के करीब पहुंच चुकी है। अस्पतालों में 92 मरीजों का इलाज चल रहा है। सबसे ज्यादा 69 मरीज एम्स में भर्ती हैं। इनमें से 19 का ऑपरेशन हो चुका है। सरकार ने अभी तक इसे महामारी घोषित नहीं किया है।

तेलंगाना : तेलंगाना सरकार ने ब्लैक फंगस को महामारी एक्ट में नोटिफाई करने की जानकारी दी है। तेलांगना में ब्लैक फंगस के 80 मामले सामने आ चुके हैं।

तमिलनाडु : राज्य में अब तक महज 9 केस सामने आए हैं, लेकिन दूसरे राज्यों की स्थिति को देखते हुए इसे महामारी एक्ट में नोटिफाई करने का फैसला लिया गया है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget