चक्रवात के बावजूद ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन

oxygen express

मुंबई

चक्रवात तौकते भी पश्चिम रेलवे के ऑक्सीजन आपूर्ति के मिशन को प्रभावित नहीं कर सका. तूफान के दौरान भी पश्चिम रेलवे ने गुजरात के चक्रवात प्रभावित क्षेत्रों हापा, मुंद्रा और वडोदरा में अपने टर्मिनलों से बिना किसी रूकावट के ऑक्सीजन (एलएमओ) आपूर्ति को जारी रखा है। गुजरात से देश के विभिन्न हिस्सों में 16 मई को 214 टन और 17 मई को 151 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का परिवहन किया। 

गौरतलब हो कि 25 अप्रैल से पश्चिम रेलवे ने ऑक्सीजन टैंकरों के जरिये लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति शुरू की है. प्रतिदिन औसतन 134 टन ऑक्सीजन देश के विभिन्न राज्यों में पहुंचाई जा रही है। पश्चिम रेलवे ने विभिन्न राज्यों को अभी तक अपने टर्मिनलों से 3057 टन ऑक्सीजन का परिवहन किया है. चक्रवात से उत्पन्न परिस्थितियों के बावजूद लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की लोडिंग और परिवहन की व्यवस्था सुनिश्चित करना जारी रखा है। मध्य रेल ने 17 मई को आठ खाली ऑक्सीजन टैंकरों को ओडिशा में अंगुल से ऑक्सीजन भर कर वापस नागपुर लाने के लिए नागपुर से अंगुल भेजा। तूफान से पूर्व पश्चिम और मध्य रेल के महाप्रबंधक आलोक कंसल ने एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई और चक्रवात से उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए योजना बनाने और तैयारी रखने के निर्देश दिए थे। पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुमित ठाकुर के अनुसार पश्चिम रेलवे द्वारा 16 और 17 मई को देश के विभिन्न हिस्सों में क्रमशः 214 टन और 151 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का परिवहन किया।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget