क्यों और कैसे पहनें डबल Face मास्क

mask

कोरोना वायरस का प्रकोप अभी भी जारी है। हालांकि कुछ राज्यों में कोरोना संक्रमण के आंकड़ों में मामूली गिरावट दर्ज की जा रही है। लेकिन नियमों का पालन सख्ती के साथ ही करना है। कोरोना की दूसरी लहर काफी खतरनाक साबित हुई। देश के हेल्थ सिस्टम को हिला कर रख दिया। देश में स्वास्थ्य आपातकाल जैसी स्थिति पैदा हो गई। कोरोना संक्रमण की पहली लहर में सिर्फ कोरोना संक्रमितों को मास्क पहनने के निर्देश जारी किए थे। बाद में सभी के लिए अनिवार्य कर दिया गया। लेकिन कोरोना की दूसरी लहर में डबल मास्क पहनने की सलाह दी जा रही है। डॉक्टरों और विशेषज्ञों द्वारा भी डबल मास्किंग पहनने के लिए जनता को चेताया जा रहा है। सरकार ने डबल मास्क पहनने के लिए दिशा - निर्देश जारी किए हैं। साथ ही क्या सावधानियां बरतना जरूरी है आइए जानते हैं -

  •   डबल मास्क पहनते वक्त सर्जिकल मास्क के साथ डबल या ट्रिपल लेयर वाला कपड़े का मास्क होना चाहिए।
  •   मास्क से नाक को अच्छी तरह कवर करें। मास्क लगाने के बाद नाक के ऊपरी हिस्से की जगह को अच्छे से दबाएं।

  वैज्ञानिकों द्वारा लगातार शोध किए जा रहे हैं। हाल ही में एक अध्ययन में सामने आया है कि दो मास्क को पहनने से  AR -COV-2 संक्रमण के असर को कम किया जा सकता है। डबल मास्क पहनने से संक्रमण को नाक और मुंह तक पहुंचने से रोका जा सकता है।

सबसे बेस्ट मास्क कौन सा है?

जारी शोध के मुताबिक चिकित्सा निर्देशानुसार कोरोना संक्रमण के खिलाफ ट्रिपल लेयर वाले मास्क, आपको फिट हो, सांस लेने में परेशानी नहीं हो, वह मास्क बेस्ट है। वहीं अगर आप कपड़े के मास्क का उपयोग करते हैं तो वह जोखिमभरा हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि अक्सर कपड़े पहनने और धोने के बाद फैल जाते हैं। इससे वायरस से बचाव में वह अधिक प्रभावी नहीं रहते हैं। ऐसे मास्क कोरोना के मुकाबले में कम उपयोगी होते हैं।

मास्क को पहनने के बाद कैसे रखें और साफ करें ?

कोरोना वायरस महामारी के बाद आने वाले कुछ सालों तक अब मास्क जीवन का हिस्सा बन चुका है। चुकी अब इसे लगाना भी जरूरी है। साथ ही आपके मुंह और नाक से निकले पार्टीकल काफी खतरनाक होते हैं। इससे सामान्य संक्रमण फैलने का भी डर रहता है। लेकिन वर्तमान में कोरोना अधिक खतरनाक है। इसलिए मास्क को पहनने के बाद सही तरह से रखना भी जरूरी है। ताकि अन्य कोई व्यक्ति आपके मास्क को हाथ नहीं लगाएं।कपड़ें के मास्क की गुणवत्ता सर्जिकल मास्क से कम आंकी गई है। इसे धोने के बाद उपयोगिता भी प्रभावित होती है।मास्क निकालने के बाद उसे व्यवस्थित रखना भी जरूरी है। खासकर जिन मास्क में नाक की क्लिप है। ढीले पड़ने पर यह कीटाणुओं के लिए आसानी से जगह बन सकती है।इसलिए मास्क पहनने के बाद उसे व्यवस्थित रखें और साफ जगह पर रखें।

मास्क को कितने अंतराल में बदलना जरूरी है?

अगर आप बार - बार बाहर जा रहे हैं या ऐसी जगह पर जा रहे हैं जहां कोविड मरीज है ऐसे में आपके मास्क बदलने का समय भी अलग होगा। संभवतः आपको दूसरों की तुलना में अधिक मास्क बदलना पड़ेगा।हालांकि मास्क बदलने की ऐसी कोई समय सीमा नहीं है। लेकिन आपका मास्क गंदा हो रहा है, ढीला पड़ गया है, उसकी ठीक से सफाई नहीं की गई है। तो आपको मास्क जरूर बदल लेना चाहिए। कपड़े के मास्क उसकी उपयोगिता पर आधारित है, इसे कितनी बार धोया है, कपड़ा किस तरह का है, कहां पर पहना है?


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget