IPL 2021 के बाकी बचे मैचों पर सस्पेंस बरकरार

IPL

नई दिल्ली

इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड यानी ECB ने ब्रिटिश मीडिया में BCCI को लेकर छपी रिपोर्ट को झूठला दिया है। ब्रिटिश मीडिया के मुताबिक, BCCI ने ECB से पांच टेस्ट मैचों की सीरीज को चार अगस्त के बजाए एक हफ्ते पहले से कराने का आग्रह किया था, जिससे कि IPL 2021 बचे मैचों को कराया जा सके। लेकिन, अब ECB ने खुद से आगे आकर इस रिपोर्ट को गलत ठहरा दिया है। इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के मुताबिक, BCCI ने आधिकारिक तौर पर पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के अंतराल को कम करने को लेकर कोई भी निवेदन उनसे नहीं किया है। ECB ने कहा कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड का प्लान फिलहाल पहले से ही तय शेड्यूल को फॉलो करने का है। उसमें किसी भी तरह के बदलाव की बात उनकी ओर से आधिकारिक तौर पर नहीं की गई है। ECB के प्रवक्ता ने PTI को बताया कि हमारी बात BCCI से लगातार तमाम चीजों को लेकर होती रहती है। कोरोना से उपजी चुनौतियों पर भी हमारी चर्चा होती है। लेकिन, उनकी ओर से कभी भी कोई आधिकारिक निवेदन टेस्ट सीरीज की तारीखों में बदलाव को लेकर नहीं हुआ।

IPL 2021 के बचे मैचों का आयोजन अगर नहीं होता है तो BCCI को इससे तकरीबन 2500 करोड़ रुपये का नुकसान होगा। बायोबबल में कोरोना की एंट्री के बाद इस साल IPL का आयोजन स्थगित करना पड़ा। ‘द टाइम्स’ के लिखे अपने कॉलम में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल अर्थटन ने ECB से BCCI के आग्रह करने की बात लिखी थी। उन्होंने लिखा था कि BCCI इंग्लैंड समर को छोटा कर IPL 2021 के आयोजन के लिए मौका तलाशने में जुटा है।

BCCI ने भी ECB से आग्रह करने से किया इंकार

इस बारे में जब BCCI के अधिकारियों को अप्रोच किया गया तो उन्होंने भी ECB से किसी भी तरह के आधिकारिक आग्रह से इंकार किया। उन्होंने कहा कि हालात मुश्किल हैं। हम लगातार ऑप्शन तलाशने में जुटे हैं। लेकिन हमारी ओर से ECB से कोई आधिकारिक निवेदन टेस्ट सीरीज के अंतराल को घटाने को लेकर नहीं की गई है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget