वेंटिलेटर नहीं मिलने से JDU विधायक की पत्नी की मौत

अररिया     

बिहार के अररिया जिले की रानीगंज सीट के जदयू के विधायक अचमित ऋषिदेव की पत्नी मंजुला देवी की बुधवार देर शाम कोरोना से मौत हो गई। विधायक ने बताया कि कुछ दिन पहले ही उनकी पत्नी को बुखार आया था। दवा खाने पर ठीक हो गई थीं। इस बीच मंगलवार की देर रात को अचानक शरीर से काफी तेज पसीना निकलने लगा था। उन्‍हें तुरंत इलाज के लिए अररिया ले जाया गया। अररिया में एचआरसीटी जांच में कोरोना बताया गया। इसके बाद फारबिसगंज के कोविड सेंटर ले जाया गया। वहां पर ऑक्सीजन लगाया गया। लेकिन ऑक्सीमीटर पर ऑक्सीजन लेवल 45 तक आ गया था। इस बीच डॉक्टरों ने वेंटिलेटर की जरूरत बताई। परिजनों की मदद से मुरलीगंज के सेंटर में वेंटिलेटर पर ले जाने के दौरान मीरगंज के पास उनकी मौत हो गई। विधायक की पत्नी की मौत की सूचना पर विधानसभा क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधायक अचमित ऋषिदेव को फोन कर ढांढस बंधाया। विधायक ने बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने करीब दस मिनट तक बात की। इस दौरान पत्नी की मौत को लेकर सारी जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने विधायक की पत्नी के निधन पर शोक जताया और परिवार के लोगों को ढांढस बंधाया। उधर, क्षेत्र में वेंटिलेटर के अभाव में विधायक की पत्‍नी की मौत की चर्चा है। लोगों का कहना है कि समय पर वेंटिलेटर की सुविधा मिल जाती तो विधायक की पत्नी बच सकती थी। बता दें कि अररिया सदर अस्पताल में छह वेंटिलेटर है, लेकिन ऑपरेटर के अभाव में पिछले छह माह से बेकार पड़े हैं।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget