'कोरोना फ्री' गांव को 50 लाख ईनाम

मुंबई

कोरोना वायरस का संक्रमण महाराष्ट्र में कहर बरपा रहा है। राज्य में शहरों की तुलना में गांवों से भी संक्रमण के ज्यादा मामले सामने आए हैं। ऐसे में महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने बड़ा कदम उठाने का फैसला किया है। महाराष्ट्र सरकार ने ग्रामीण इलाकों में Covid-19 को फैलने से रोकने के लिए प्रोत्साहित करने के मकसद से बुधवार को 'कोरोना मुक्त गांव' प्रतियोगिता की घोषणा की। इसके तहत प्रथम पुरस्कार 50 लाख रुपये, दूसरे विजेता को 25 लाख और तीसरे विजेता को 15 लाख रुपये दिए जाएंगे। दरअसल मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कुछ गांवों की ओर से किए प्रयासों की हाल ही में प्रशंसा की और ‘मेरा गांव कोरोना मुक्त’ पहल की घोषणा की थी। राज्य के ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुश्रीफ ने एक बयान में कहा कि ‘कोरोना मुक्त गांव’ प्रतियोगिता मुख्यमंत्री की ओर से घोषित की गई पहल का ही हिस्सा है। इस प्रतियोगिता के तहत प्रत्येक राजस्व मंडल में कोविड-19 से निपटने के लिए अच्छे काम करने वाली तीन गांव पंचायतों को इनाम दिए जाएंगे।

मंत्री ने बताया कि प्रथम पुरस्कार के तहत 50 लाख रुपये दिए जाएंगे, दूसरे विजेता को 25 लाख और तीसरे विजेता को 15 लाख रुपये दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में छह राजस्व मंडल है इसलिए कुल 18 पुरस्कार होंगे। इनाम की कुल राशि 5.4 करोड़ रुपये हैं। मंत्री ने बताया कि प्रतियोगिता जीतने वाले गांवों को प्रोत्साहन के तौर पर इनामी राशि जितनी ही अतिरिक्त धनराशि दी जाएगी और इसका इस्तेमाल इन गांवों में विकास कार्यों के लिए किया जाएगा।

गांवों को 22 मानदंडों पर परखा जाएगा

ग्रामीण विकास मंत्री ने बताया कि प्रतियोगिता में भाग लेने वाले गांवों को 22 मानदंडों पर परखा जाएगा। इसका फैसला करने के लिए एक समिति गठित की जाएगी। ठाकरे ने रविवार को एक वर्चुअल संबोधन में महाराष्ट्र के सबसे युवा सरपंच ऋतुराज देशमुख (21) और उनके कार्यबल की सोलापुर जिले में अपने घाटणे गांव को कोरोना वायरस से मुक्त रखने के लिए तारीफ की थी।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget