यूपी में फिर शुरू होगा सीएम योगी का मिशन रोजगार

लखनऊ

उत्तर प्रदेश के युवाओं के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश में एक बार फिर सीएम योगी का मिशन रोजगार शुरू होने जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना की दूसरी लहर के कमजोर होने के साथ उत्तर प्रदेश में आर्थिक गतिविधियां तेज करने का निर्देश दिया है। इसके तहत दिसंबर तक एक लाख सरकारी पदों पर भर्ती प्रक्रिया पूरी करने की तैयारी में है। 

भर्ती प्रक्रिया तेज करने के निर्देश

इस साल दिसंबर तक प्रदेश में एक लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने का लक्ष्य रखा गया है। इसको लेकर सभी विभागों को भर्ती प्रक्रिया तेज करने के निर्देश दे दिए गए हैं। जिन विभागों में कोरोना की वजह से भर्ती प्रक्रिया रुकी हुई थी उसे दोबारा शुरू करके चयनित युवाओं की नियुक्ति देने के निर्देश दिए गए हैं। आने वाले समय में शिक्षा, पुलिस, स्‍वास्‍थ्‍य, ऊर्जा और आबाकारी विभाग आदि विभागों में भर्तियां की जाएंगी। 

चार साल में दिए चार लाख रोजगार

योगी सरकार पिछले चार साल में अलग-अलग विभागों में लगभग चार लाख सरकारी नौकरियां दे चुकी है। योगी सरकार का लक्ष्‍य साल के अंत तक अपने कार्यकाल में पांच लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने का है। अब तक एक लाख से अधिक महिलाओं की सरकारी नौकरी मिली है। साथ ही 1.30 लाख से अधिक शिक्षकों की भर्ती गई है। 

मनरेगा के तहत 1.50 करोड़ श्रमिकों को रोजगार

योगी सरकार के मिशन रोजगार के तहत मनरेगा के जरिये 1.50 करोड़ श्रमिकों को रोजगार दिया गया है। स्टार्ट अप इकाईयों से पांच लाख तथा औद्योगिक इकाइयों से तीन लाख से अधिक युवाओं को रोज़गार मिला है। 50 लाख से अधिक एमएसएमई इकाइयों से एक करोड़ 80 लाख लोगों को रोज़गार मिला। इसके अलावा प्रदेश सरकार की नई उद्योग नीति से पांच लाख से ज़्यादा लोगों को रोज़गार अब तक मिला है। अमेजन, फ्लिपकार्ट, एकेटीयू, बीएसई जैसी कम्पनियों के उत्पादों की मार्केटिंग में 65 हज़ार से ज़्यादा व्यक्तियों को रोज़गार दिलाया गया। इसके अलावा 40 लाख से अधिक कामगारों/ श्रमिकों की स्किल मैपिंग के बाद उनको रोजगार से जोड़ा गया है। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget