फ्रंटलाइन वर्कर्स को प्रशिक्षित करेगी स्किल इंडिया


नई दिल्ली

कोविड -19 की चुनौतियों से बेहतर ढंग से निपटने के लिए माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश भर में एक लाख से अधिक कोविड योद्धाओं की स्किलिंग और अपस्किलिंग के लिए 'स्वास्थ्य सेवा में कोविड 19 फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं के कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स कार्यक्रम' की शुरुआत की। स्किलिंग, रीस्किलिंग और अपस्किलिंग पहल के माध्यम से नौकरी करने के लिए तैयार एक सक्रिय कार्यबल बनाकर कोविड-19 से लड़ाई में रणनीतिक और तत्काल सहायता द्वारा एक नई दिशा प्रदान की जा सकेगी। लॉन्च इवेंट के दौरान, प्रधानमंत्री मोदी ने जोर देकर कहा कि भविष्य में कोरोना वायरस के और अधिक बढ़ने को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य संबंधी बुनियादी ढांचे को मज़बूत करने की जरूरत है और इस वायरस से अतिरिक्त स्किल्ड मैनपॉवर काफी हद तक निपटने में सहायक होगी। 

कोविड -19 ने मौजूदा स्वास्थ्य प्रणाली पर बहुत अधिक दबाव बनाया है और देश भर में कुशल कोविड योद्धाओं की आवश्यकता पहले की तुलना में अधिक महत्वपूर्ण हो गई है। आज देश भर में कोविड -19 फ्रंटलाइन वर्कर्स की क्षमता बढ़ाने पर माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व और मार्गदर्शन में कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय (एमएसडीई) ने एक कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स के माध्यम से प्रशिक्षित और कुशल कोविड फ्रंटलाइन वर्कर्स  का एक पुल बनाने का निर्णय लिया है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget