पाक प्रेम संग मोदी से मिलेंगी महबूबा

PDP चीफ ने कहा- तालिबान से बात हो सकती है तो पाकिस्तान से क्यों नहीं? 


श्रीनगर

फारूक अब्दुल्ला के घर मंगलवार को हुई गुपकार गठबंधन की बैठक के बाद PDP चीफ महबूबा मुफ्ती ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा, 'बीते दिन सरकार तालिबान से बात कर रही थी। जब तालिबान से बात हो सकती है तो पाकिस्तान से क्यों नहीं? उन्हें अवाम के लिए जम्मू-कश्मीर के नेताओं से भी बात करनी चाहिए।'

इससे पहले नेशनल कॉन्फ्रेंस (NC) चीफ फारूक अब्दुल्ला ने कहा, 'जिन्हें भी PM की तरफ से न्योता भेजा गया है, वे सभी 24 जून को मीटिंग में जाएंगे और गृह मंत्री से भी मुलाकात करेंगे।'

आसमान के तारे नहीं मांगेंगे : तारीगामी

बैठक में शामिल हुए गुपकार गठबंधन के प्रवक्ता यूसुफ तारीगामी ने कहा, 'हम जम्मू-कश्मीर को लेकर उनसे बात करेंगे। हमारी मीटिंग का कोई एजेंडा नहीं है, सब अपनी बात रखने के लिए स्वतंत्र हैं। हम आपको यकीन दिलाना चाहते हैं कि हम मीटिंग में आसमान के तारे नहीं मांगेंगे। हम वही मांगेंगे, जो हमारा था और हमारा ही रहना चाहिए।' मीटिंग में शामिल मुजफ्फर शाह ने कहा है कि आर्टिकल-370 को लेकर हम कोई समझौता नहीं करेंगे।

छ‍ह दलों के नेता हुए शामिल

बैठक में छह दलों के नेता शामिल हुए, जिसकी अगुआई फारूक अब्दुल्ला की पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस (NC) और महबूबा मुफ्ती की पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) ने की। बैठक फारूक अब्दुल्ला के घर पर हुई।

विधानसभा चुनाव और पूर्ण राज्य के दर्जे पर हो सकती है बात

प्रधानमंत्री मोदी की 24 जून को होने वाली बैठक में जम्मू-कश्मीर में चल रहे राजनीतिक गतिरोध के अलावा केंद्र शासित प्रदेश को पूर्ण राज्य का दर्जा देने संबंधी विषयों पर चर्चा हो सकती है। बैठक में जम्मू-कश्मीर में होने वाले विधानसभा चुनाव पर भी चर्चा की उम्मीद है।

राज्य में चुनाव 2018 से लंबित हैं। तब महबूबा मुफ्ती की पार्टी PDP और भाजपा का गठबंधन टूट गया था। इस बीच, गुपकार समूह ने भी केंद्र सरकार से बातचीत को लेकर नरम रुख के संकेत दिए थे।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget