कोस्टल रोड का काम तेजी से जारी

मुख्यमंत्री ने की मुंबई मनपा के कार्यों की समीक्षा  


मुंबई 

कोस्टल रोड, बारिश में आऊटफॉल, पंपिंग, खुले नाले के जरिए रुके पानी की निकासी आदि को लेकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुंबई महानगरपालिका के कार्यों की समीक्षा करते हुए कुछ महत्वपूर्ण सुझाव दिए। मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने अपने प्रेजेंटेशन में बताया कि बाढ़ के पानी की निकासी के कारण तटीय सड़क के काम में बाधा न हो, इसके लिए एक प्रणाली स्थापित की गई है।

77 आऊटफॉल की सफाई, पंपों का संचालन  

प्रियदर्शिनी पार्क, चौपाटी, वर्ली सी फेस में कुल 77 आउटफॉल हैं और उनमें से 43 समुद्र तट के समानांतर हैं। सभी आउटफॉल को अच्छी तरह साफ कर दिया गया है। अमरसंस इंटरचेंज, हाजी अली इंटरचेंज, चौपाटी में पर्याप्त क्षमता के पंप लगाए गए हैं। कोस्टल रोड के किनारे 15 जगहों पर 63 पंप लगाए गए हैं।

कोस्टल रोड का 36 फीसदी काम पूरा

10.58 किलोमीटर के कोस्टल रोड का  36 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। परियोजना पर कुल 12,721 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इसमें ट्रिपल रूट की दो-दो बड़ी टनल बनाई जा रही हैं। 15. 66 किमी इंटरचेंज रूट भी होंगे। अभी तक सुरंग की खुदाई का काम 9 फीसदी, रिक्लेमेशन का 90 फीसदी और समुद्र की दीवार का 68 फीसदी काम चल रहा है।

जलभराव रोकने के लिए भूमिगत टैंक

इस दौरान अतिरिक्त मनपा आयुक्त (परियोजना) पी वेलरासू ने हिंदमाता, गांधी मार्केट, चूनाभट्टी-कुर्ला सायन रेलवे स्टेशन परिसर में पानी की निकासी के लिए किए जा रहे उपायों की जानकारी दी। हिंदमाता और गांधी मार्केट में हर साल जलभराव की समस्या से निपटने के लिए स्थायी समाधान निकाला जा रहा है और इन दोनों जगहों पर बड़े-बड़े भूमिगत जल भंडारण टैंकों का निर्माण किया जा रहा है। यदि निचले इलाकों में बारिश का पानी भर जाता है, तो इसे इन टैंकों में छोड़ा जाएगा। ज्वार उतर जाने के बाद यह पानी समुद्र में छोड़ा जाएगा। इससे पानी जमा नहीं होगा।

हिंदमाता में नहीं रुका ट्रैफिक

उन्होंने कहा कि अगले साल इन कार्यों की वजह से हिंदमाता क्षेत्र को बड़ी राहत मिलेगी। इस साल परेल फ्लाईओवर और हिंदमाता फ्लाईओवर को जोड़ने वाली सड़क की ऊंचाई बढ़ा दी गई है। इस वजह से पिछले सप्ताह पानी भरने के बावजूद यातायात बाधित नहीं हुआ।

कीचड़ हटाने के काम की कंप्यूटर निगरानी

पिछली  9 जून को मुंबई में 20 स्थानों पर 200 मिमी से अधिक, 11 स्थानों पर 150 मिमी से 200 मिमी, 13 स्थानों पर 100 मिमी से 150 मिमी और 3 स्थानों पर 100 मिमी से कम बारिश हुई। मुंबई में 386 स्थानों पर पानी भर जाता है, जिसमें से 171 स्थानों पर पानी जमा नहीं हो, इसके लिए उपाय  योजना की गई है। 24 वार्डों में 6 मीटर से कम चौड़े नालों की शत-प्रतिशत सफाई कर दी गई है। मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने बताया कि नाले से कीचड़ निकालने और मुंबई के बाहर इसके निपटान की पूरी प्रक्रिया कंप्यूटर सिस्टम द्वारा नियंत्रित होती है और प्रत्येक वाहन को फेरे,  कीचड़ और वजन को तस्वीरों के साथ दर्ज किया जाता है।

3 लाख 23 हजार लाभार्थियों का गृह प्रवेश

ग्रामीण विकास विभाग द्वारा कार्यान्वित महाआवास अभियान के तहत घरकुल योजना का लाभ प्राप्त करने वाले 3 लाख 23 हजार लाभार्थियों ने मंगलवार को गृह प्रवेश किया। साथ ही इस अभियान के तहत करीब 4 लाख 68 हजार घरों का निर्माण कार्य पूरा होने के करीब है और इन्हें एक महीने में पूरा किया जा सकता है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि ग्रामीण विकास विभाग ने इस अभियान के माध्यम से कम समय में लगभग आठ लाख परिवारों को घर का लाभ देकर सराहनीय कार्य किया है। सह्याद्री गेस्ट हाउस में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने ठाणे और पालघर जिलों के लाभार्थियों को प्रतिनिधि तौर पर घरों की चाबियां दी। वहीं ई-गृह प्रवेश के तहत राज्य भर में कुल 3 लाख 22 हजार 929 लाभार्थियों को चाबियां बांटी गईं।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget