अमेरिकी नौसेना के साथ भारतीय वायु सेना दिखाएगी 'ताकत'


हिंद महासागर क्षेत्र में आज से शुरू होगा युद्ध अभ्यास

नई दिल्‍ली। भारत बुधवार आज से हिंद महासागर क्षेत्र (IOR) में अमेरिका के साथ दो दिवसीय हवाई युद्ध अभ्यास शुरू करेगा, चीन पर मजबूती से नजर रखने के साथ इस क्षेत्र में तालमेल को और मजबूत करने के लिए एक और सैन्य जुड़ाव है। इस बात की जानकारी इंडियन एयरफोर्स ने देते हुए कहा कि हिंद महासागर क्षेत्र में मित्र देशों के रक्षा बलों के साथ एक रणनीतिक आउटरीच अभ्यास के रूप में, भारतीय वायु सेना 23 और 24 जून को रोनाल्ड रीगन कैरियर स्ट्राइक ग्रुप के साथ किए जाने वाले अभ्यास में अमेरिकी नौसेना के साथ भाग लेगी। 

भारतीय वायु सेना ने बताया कि अभ्यास के AoR का दक्षिणी वायु कमान भारतीय वायुसेना के चार ऑपरेशनल कमांड के तहत ठिकानों से काम करेगी, जिसमें जगुआर और एसयू -30 एमकेआई लड़ाकू, एडब्ल्यूएसीएस, एईडब्ल्यूएंडसी और हवा से हवा में ईंधन भरने वाले विमान शामिल होंगे। भारतीय वायुसेना के अनुसार आभ्यास के दौरान यूएस सीएसजी से एफ-18 लड़ाकू विमानों और ई-2सी हॉकआई एईडब्ल्यूएंडसी विमानों को उतारने की उम्मीद है। मालूम हो कि ये अभ्यास दो दिनों में तिरुवनंतपुरम के दक्षिण में, पश्चिमी समुद्र तट पर किया जाएगा। एक अधिकारी ने बताया कि आईएएफ के पास आईओआर में समुद्री अभियानों का व्यापक अनुभव है। इसे अंतर्राष्ट्रीय अभ्यासों में भागीदारी सहित देश के द्वीप क्षेत्रों से अभ्यासों के संचालन से सालों से समेकित किया गया है। उन्होंने कहा कि यह अभ्यास कई क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करेगा, जिसमें समुद्री वायुशक्ति डोमेन में इंटरऑपरेबिलिटी और सर्वोत्तम प्रथाओं के आदान-प्रदान के पहलुओं को बढ़ाना शामिल है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget