दो हजार घरों में घुसा बाढ़ का पानी

साहेबगंज

गंडक में उफान से मुजफ्फरपुर जिले के साहेबगंज की सात पंचायतों के एक दर्जन से अधिक वार्डों का संपर्क प्रखंड मुख्यालय से कट गया है। वार्डों के पानी से घिरे होने के कारण हजारों की संख्या में लोग फंस गए हैं। शुक्रवार शाम तक करीब दो हजार घरों में बाढ़ का पानी घुस गया था। लोग छत व ऊंचे जगहों पर शरण ले रहे हैं। लोग कहते मिले कि धरती पर पानी, आसमान से पानी यहीं बन गयी है गंडक दियारा के बाढ़ पीड़ितों की जिंदगानी। यह कोई कविता नहीं बल्कि गंडक में आयी बाढ़ से तिरहुत तटबंध पर प्लास्टिक तान कर समय काट रहे बाढ़ पीड़ितों की व्यथा है। अमीन अजय कुमार ने कहा कि तटबंध के बगल में नाच आया था, हम सब नाच देखकर घर लौटे तो मेंढक की आवाज सुन माथा ठनका, देखने पर पता चला कि पिछवाड़े पानी लबालब भरा हुआ है। घर का सारा सामान लेकर तटबन्ध पर आ गए।

वार्ड संख्या सात के अनिरुद्ध बैठा तटबंध किनारे खंभा गाड़ने के लिये गड्ढा खोद रहे थे। उसने कहा कि गुजर बसर करने के लिये तो कोई उपाय करना ही होगा। वहीं राजेंद्र राम, जोखू बैठा, नागेश्वर राम, अवधेश राम सहित एक सौ से अधिक लोग तटबंध पर प्लास्टिक तान कर रह रहे हैं। देवसर असली के खेलावन राय ने गुस्से में कहा कि खाली देखने से क्या होगा। हम लोग कष्ट झेल रहे हैं। पहले भोजन और पेयजल की व्यवस्था करनी चाहिये। वहीं बंगरा बाजार से होकर विष्णुपुर चक पहाड़ और बंगरा निजामत की ओर जानेवाली सड़क पर पुलिया बनाने के लिये दो जगह सड़क को काट दिया गया था। अब बाढ़ के पानी की तेज धारा के कारण ग्रामीणों का आवागमन ठप हो गया है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget