मुंबई के सामने अब नया संकट!

स्वाइन फ्लू की चपेट में आ रहे लोग

H1N1

मुंबई

देश में कोरोना वायरस महामारी के बीच मुंबई में इन्फ्लुएंजा H1N1 यानी स्वाइन फ्लू के मामले सामने आ रहे हैं। स्वाइन फ्लू और कोविड-19 के लक्षण एक जैसे होते हैं, ऐसे में विशेषज्ञों ने सलाह दी है कि डॉक्टरों को ध्यान रखना होगा कि एच1 एन 1 के मरीज को कोविड का इलाज ना दिया जाए। संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ. वसंत नागवेकर ने हाल ही में सर्दी, बुखार और सिरदर्द के दो मरीजों का इलाज किया। एक रोगी हाल ही में कोविड-19 संक्रमित पाया गया था।

किसी भी कोविड मरीज के 90 दिन के भीतर फिर से संक्रमित होने का मामला दुर्लभ है। ऐसे में डॉक्टर ने H1N1 टेस्ट का सुझाव दिया। एक रिपोर्ट के अनुसार, मरीज का H1N1 टेस्ट पॉजिटिव था। डॉ. नागवेकर ने स्वाइन फ्लू के दो मामले और एच3एन2 के तीसरे मामले को भी देखा।  यह इन्फ्लूएंजा-ए का सब टाइप है। रिपोर्ट के अनुसार, नागवेकर ने कहा कि इलाज के दौरान यह ध्यान रखना होगा कि फिलहाल कई वायरस का प्रसार हो रहा है। ऐसे में अगर कोई मरीज कोविड प्रोटोकॉल से दिए जा रहे इलाज से ठीक नहीं हो रहा है तो अन्य पर निगाह डालें।

 स्वास्थ्य विभाग ने भी पुष्टि की

बीएमसी के स्वास्थ्य विभाग ने भी पुष्टि की कि इस साल बीएमसी को H1N1 के दो मामले मिले हैं। पिछले कुछ सालों में महाराष्ट्र की राजधानी में H1N1 के मामले सामने आ रहे हैं। मुंबई में पिछले साल 44 मामले आए थे, वहीं साल 2019 में H1N1 के 451 मामले पाए गए थे और 5 मौतें हुई थीं।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget