क्रिकेट वर्ल्ड कप में बड़ा बदलाव

14 टीमें लेंगी हिस्सा, 2003 का फॉर्मेट होगा लागू


नई दिल्ली

क्रिकेट वर्ल्ड कप में एक बार फिर आईसीसी बड़ा बदलाव करने वाली है। खबरों के मुताबिक एक बार फिर इस टूर्नामेंट में 14 टीमें हिस्सा लेंगी और राउंड रॉबिन की जगह सुपर सिक्स फॉर्मेट के आधार पर वर्ल्ड कप खेला जाएगा। आईसीसी ये फॉर्मेट 2027 वर्ल्ड कप में लागू करेगी। बता दें साल 2003 वर्ल्ड कप में सुपर सिक्स फॉर्मेट का इस्तेमाल किया गया था। साल 2019 वर्ल्ड कप में आईसीसी ने राउंड रॉबिन फॉर्मेट को अपनाया जिसमें 10 टीमों ने हिस्सा लिया और एक टीम ने 9 मैच खेले।

रिपोर्ट के मुताबिक आईसीसी की बैठक में 2015, 2019 और 2003 सुपर सिक्स मॉडल पर चर्चा हुई। बैठक में ये बात सामने आई कि 10 टीम के मॉडल से सबसे ज्यादा फायदा हुआ और 2015 मॉडल से सबसे कम। वहीं सुपर सिक्स मॉडल दोनों के बीच में रहा। टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक इंग्लैंड वर्ल्ड कप को 10 टीमों तक ही सीमित रखने के पक्ष में नहीं था।

क्या है सुपर सिक्स मॉडल

बता दें िक सुपर सिक्स मॉडल में 14 टीमें दो ग्रुप में बांटी जाती है। दोनों ग्रुप में एक टीम 6-6 मैच खेलती है। दोनों पूल की टॉप 3 टीमें सुपरसिक्स राउंड में पहुंचती हैं। जो टीमें पहले राउंड में ज्यादा मैच जीतती हैं उसे सुपर सिक्स राउंड में फायदा होता है, क्योंकि ज्यादा मैच जीतने की वजह से उनके अंक अगले राउंड में भी गिने जाते हैं। सुपर सिक्स स्टेज में एक टीम अन्य पांच टीमों से भिड़ती हैं और उसके बाद अंकों के आधार पर टॉप 4 टीमें सेमीफाइनल में जगह बनाती हैं। सुपर सिक्स फॉर्मेट में वर्ल्ड कप में कुल 54 मैच होंगे जबकि 2019 में 48 मैचों का ही आयोजन हुआ था। साल 2003 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम का प्रदर्शन शानदार रहा था। टीम इंडिया फाइनल तक पहुंची थी। लीग स्टेज और सुपर सिक्स में शानदार प्रदर्शन के बाद टीम इंडिया ने सेमीफाइनल में केन्या को हराया था। हालांकि खिताबी मुकाबले में उसे ऑस्ट्रेलियाई टीम से हार का सामना करना पड़ा था।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget