बेस्ट से हटी एसटी, यात्रियों की बढ़ेॱगी दिक्कतें

ST

मुंबई

लॉकडाउन के कारण सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे इसके लिए बेस्ट ने यात्रियों  को सुविधा देने के लिए एसटी बसों का भी उपयोग करना शुरू किया था। कोरोना की दूसरी लहार में भले ही अभी कमी आई है, लेकिन बेस्ट बसों में अभी भी खड़े होकर यात्रा करने की छूट यात्रियों को नहीं है। बेस्ट ने एसटी से मिली 500 बसों को वापस एसटी के पास लौटा दिया है, जिससे यात्रियों की परेशानी और बढ़ेगी। सोमवार को दिन भर बेस्ट की 3,114 बसें रास्तों पर दौड़ती रहीं, इसके बावजूद बस स्टॉप पर यात्रियों की भारी भीड़ बनी रही। यत्रियों को जब तक रेलवे में नहीं छूट मिलती उनकी परेशानी बनी ही रहेगी।

मार्च 2020 में मुंबई में कोरोना संक्रमण शुरु हुआ था। तब से कभी लॉकडाउन तो कभी अनलॉक की प्रक्रिया शुरु है। कठोर प्रतिबधों के लागू होते ही आम जनता के लिए बेस्ट की सेवा बंद कर दी गई थी, जिससे अत्यावश्यक सेवा में लगे कोरोना योद्धाओं को ढ़ोने का पूरी जिम्मेदारी बेस्ट पर आ गई थी। बेस्ट को सहायता देने के लिए एसटी की एक हजार बसें यात्रियों को सेवा देने मुंबई में दाखिल हुई थी। लालपरी की सेवा के बदले बीएमसी ने एस टी महामंडल को लगभग एक हजार करोड़ रुपए अदा किये थे। बेस्ट परिवहन की तीन हजार बसों के साथ एसटी की एक हजार बसें चल रही थी। कोरोना प्रतिबंधों के चलते अब भी लोकल बंद है। अब बेस्ट ही यात्रियों के लिए एक मात्र आधार है। प्रतिबंधों में थोड़ी ढ़ील देने से सार्वजनिक स्थानों पर यात्रियों की संख्या बढ़ रही है। मुंबईकरों को अब भी बसों की जरूरत रहते हुए एसटी महामंडल ने अपनी बसों को वापस बुला लिया है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget