एक साल तक कोरोना का टेंशन!

चेतावनी : अक्तूबर में तीसरी लहर की संभावना

crowd

नई दिल्ली

कोरोना की दूसरी लहर से थोड़ी राहत मिलने के बाद अब तीसरी लहर की आशंका जताई जा रही है। इस बीच सरकार ने कहा है कि कोरोना महामारी से देश को निपटने में सालभर का समय लग सकता है। 

मेडिकल एक्सपर्ट्स के सर्वे के अनुसार अक्तूबर तक भारत में कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना जताई जा रही है। वहीं इस सर्वे के अनुसार लोगों को एक वर्ष और सावधान रहने की आवश्यकता है।  इस सर्वे में दुनियाभर के 40 स्वास्थ्य विशेषज्ञ, डॉक्टरों, वैज्ञानिकों, वायरोलॉजिस्ट, महामारी विज्ञानियों और प्रोफेसरों को शामिल किया गया। इनसे 3-17 जून के बीच प्रतिक्रिया ली गई।  

सर्वे के अनुसार 85 फीसदी से अधिक यानी 24 में से 21 ने कहा कि  तीसरी लहर अक्तूबर तक आएगी। इनमें से तीन ने अगस्त की शुरुआत और 12 ने सितंबर में इसके आने की संभावना जताई। बाकी तीन ने नवंबर से फरवरी के बीच इसके आने की बात कही।

70 फीसदी से ज्यादा विशेषज्ञों यानी 34 में से 24 ने कहा कि तीसरी लहर को दूसरी की तुलना में बेहतर ढंग से काबू किया जाएगा। मौजूदा लहर कहीं ज्यादा जानलेवा साबित हुई। इस दौरान स्वास्थ्य व्यवस्था में काफी कमी देखने को मिली। पहली लहर के मुकाबले यह ज्यादा लंबी भी रही है।

वहीं अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कोरोना की तीसरी लहर को लेकर कहा है कि नई लहर पर ज्यादा नियंत्रण होगा। इसके आने तक काफी लोगों का वैक्सीनेशन हो चुका होगा। दूसरी लहर से भी कुछ हद तक प्राकृतिक प्रतिरक्षा मिलेगी। 

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget