धारावी में सिर्फ चार प्रतिशत लोगों का टीकाकरण

मुंबई

कोरोना की दूसरी लहर में भी सफल लड़ाई लड़ने वाली धारावी में अब तक चार फीसदी से भी कम लोगों का टीकाकरण हुआ  है। धारावी में अब तक मात्र 22 से 23 हजार लोगों को ही टीका लगाया जा सका है।

बता दें की मुंबई में अगस्त-सितंबर में कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना जताई जा रही है। इससे बचने के लिए भी कुल जनसंख्या का 60 प्रतिशत से अधिक लोगों का वैक्सीनेशन होना जरूरी है। एशिया की सबसे बड़ी झोपड़पट्टी होने के बावजूद धारावी में मात्र चार प्रतिशत लोगों का ही टीकाकरण किया गया है। मनपा सहायक आयुक्त किरण दिघावकर ने कहा की इस परिसर में सात लाख के करीब जनसंख्या है। सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से नागरिकों का पंजीकरण व टीकाकरण कर उन्हें प्राथमिकता दी जा रही है। टीकाकरण की दर बढ़ाने के लिए नागरिकों में जागरूकता भी पैदा की जा रही है। धारावी में रोजगार के लिए आने वाले प्रवासी लोगों की संख्या बड़ी है। इन श्रमिकों का टीकाकरण अभी तक नहीं हुआ है, इनके टीकाकरण की जिम्मेदारी मनपा पर है।

इसलिए टीकाकरण का प्रतिशत कम हुआ

नागरिकों को अपना ऑनलाइन पंजीकरण कराने में परेशानी हो रही है। दैनिक कार्य के कारण लोग छुट्टी लेकर टीका के लिए नहीं जा रहे है। कोरोना काल में निर्वाह की समस्या के कारण पलायन दर अधिक है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget