ममता की छांव में मुकुल


कोलकाता

करीब 4 साल तक भारतीय जनता पार्टी में रहने के बाद मुकुल रॉय ने एक बार फिर पुराने दल तृणमूल कांग्रेस में वापसी कर ली है। मुकुल रॉय के पाला बदलने पर पश्चिम बंगाल में पार्टी के उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह ने उन्हें भेदिया बताते हुए कहा है कि वह भाजपा की आंतरिक सूचनाएं टीएमसी तक पहुंचाते थे और इस वजह से पार्टी की हार हुई। उन्होंने यह भी कहा कि वह पहली बार चुनाव जीते वह भी भाजपा के सिंबल पर, अच्छा होता कि जाने से पहले वह विधायकी से इस्तीफा दे देते।  अर्जुन सिंह ने कहा, ''राजनीति में जो सुविधावादी व्यक्ति होते हैं, वह इसी तरह का काम करते हैं।  जब अभिषेक बनर्जी का तृणमूल में उदय हुआ तो अभिषेक के साथ उनकी बड़ी अनबन थी। अभिषेक बनर्जी ने धक्का देकर इनको घर से बाहर निकाला था, तो ये भाजपा में आ गए। भाजपा में आने के बाद एक बार फिर ये चाऊमीन खाने चले गए। इस बीच रॉय ने कहा है कि बंगाल में जो हालात हैं भाजपा में कोई नहीं रह सकता। 

टीएमसी सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पुराने सहयोगी का स्वागत करते हुए उन्हें अच्छा लड़का बताया और कहा कि उन्होंने टीएमसी के साथ गद्दारी नहीं की। राजीव बनर्जी सहित टीएमसी के और बागियों के बीजेसी से वापसी के सवाल को ममता बनर्जी ने फिलहाल टाल दिया और कहा कि आने वाले समय में इस बारे में कुछ कह पाएंगी। उधर, मुकुल रॉय ने कहा कि बंगाल में जो स्थिति है, उसमें कोई बीजेपी में रहेगा नहीं। उन्होंने यह भी कहा कि दीदी के साथ कोई मतभेद नहीं था और वह देश की नेता हैं।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget