बीडीडी चाल पुनर्विकास में कोई नहीं होगा बेघर: ठाकरे

पुलिसकर्मियों के घरों को लेकर मंत्री स्तर की समिति का गठन

uddhav thackeray

मुंबई

मुंबई के बीडीडी चाल के पुनर्विकास में कोई भी व्यक्ति बेघर नहीं होगा। चाल के प्रत्येक व्यक्ति के पुनर्वास का ध्यान रखा जाएगा। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने यहां पर पुलिस आवासों के संबंध में नीतिगत निर्णय लेने के लिए एक मंत्री स्तर समिति का गठन करने का निर्देश दिया है।

बैठक में बीडीडी चाल के पुनर्विकास में पुलिस को आवंटित किए गए आवासों में मृतक कर्मचारियों के परिवार वालों एवं सेवानिवृत्त कर्मचारियों को आवास उपलब्ध कराने के मुद्दे पर चर्चा हुई। मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा कि बीडीडी चाल के पुनर्विकास में किसी भी व्यक्ति के पुनर्वास से वंचित नहीं रहने दिया जाएगा। बीडीडी चाल का पुनर्विकास एक महत्वाकांक्षी परियोजना है। इसलिए हमारा प्रयास हैं कि इसे योजनाबद्ध तरीके से पूरा किया जाए। इस जगह पर पुलिस दल के सेवा में देने वाले कर्मचारियों को दिए गए आवास स्थानों में कुछ आवास मृतक कर्मचारियों के परिवारों और सेवानिवृत्त कर्मचारियों के पास भी हैं। पुनर्विकास में पुलिस सेवा आवासों की संख्या को बरकरार रखा जाना चाहिए और वर्तमान में रह रहे पुलिसकर्मियों के परिवारों को लेकर भी सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाना चाहिए। उनके लिए विभिन्न विकल्पों के माध्यम से भी आवास की योजना बनानी होगी। पुनर्विकास के माध्यम से म्हाडा के माध्यम से उपलब्ध होने वाले आवासों और उसका इन पुलिस वालों को आवंटन करने में लगने वाले मकानों की भी योजना तैयार की जाए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने एक मंत्री स्तर की समिति गठित करने और पुनर्विकास और पुनर्वास के संबंध में तत्काल कार्यवाही करने के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री के सरकारी आवास वर्षा बंगले पर हुई बैठक में गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल, गृहनिर्माण मंत्री जितेंद्र आव्हाड, पर्यटन, पर्यावरण व राजशिष्टाचार मंत्री आदित्य ठाकरे, मुख्य सचिव सीताराम कुंटे, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव आशीष कुमार सिंह आदि  उपस्थित थे।

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget