दक्षिण अफ्रीका में कोरोना की तीसरी लहर


नई दिल्‍ली

दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस की तीसरी लहर शुरू हो गई है। इस बात की जानकारी नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर कम्युनिकेबल डिजीज (एनसीआईडी) ने दी है। अफ्रीकी महाद्वीप में ये देश वायरस से सबसे अधिक प्रभावित है। यहां संक्रमण के 9,149 नए मामले दर्ज किए हैं। एनसीआईडी का कहना है कि मंत्रिस्तरीय सलाहकार समिति (एमएसी) ने सात दिवसीय औसत मामलों की संख्या 5,959 बताई थी, लेकिन देश ने इस आंकड़े को भी पार कर लिया है। पॉजिटिविटी रेट 15.7 फीसदी दर्ज किया गया है।

एनसीआईडी का कहना है, ‘दक्षिण अफ्रीका तकनीकी रूप से आज तीसरी लहर में प्रवेश कर चुका है।’ समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार, अफ्रीका में कोविड-19 के करीब 50 लाख मामले दर्ज हुए हैं। यहां सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्र दक्षिण अफ्रीका है, जहां कुल मामलों का 37 फीसदी दर्ज हुआ है। ये देश अफ्रीका में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित है। यहां टीकाकरण की गति भी धीमी है और पूरे अफ्रीका में हुई कोविड मौत में से 43 फीसदी यहीं दर्ज हुई हैं।

अस्पतालों में बढ़ी मरीजों की संख्या

इस देश के नौ प्रांतों में सबसे अधिक प्रभावित गौतेंग है, जहां प्रतिदिन पांच हजार मामले मिल रहे हैं. एनआईसीडी के ताजा आंकड़ों से पता चलता है कि 844 अस्पतालों में 24 घंटे के भीतर भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है (Third Wave in South Africa). इस देश में 10 जून को 9,149 नए मामले सामने आने के बाद कुल मामलों की संख्या बढ़कर 1,722,086 हो गई है, जबकि मृतकों की कुल संख्या अब 57,410 है. यहां स्वास्थ्यकर्मियों, 60 साल से अधिक उम्र के लोगों और अन्य बीमीरियों से ग्रसित 18 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीन दिए जाने के साथ टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई थी.

लॉकडाउन का दूसरा चरण शुरू

देश में कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने 31 मई को लॉकडाउन का दूसरा चरण लागू कर दिया था. एक महीने के भीतर ही पॉजिटिविटी रेट दोगुना हो गया है. भारत में भी हाल ही में कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने खूब कहर बरपाया था. अब यहां हालात काबू में आ गए हैं और मामलों में भी कमी देखी गई है. देश में तीसरी लहर आने से पहले ही उससे निपटने के लिए जरूरी तैयारियां की जा रही हैं.


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget