हरभजन सिंह ने मांगी माफी

भिंडरावाले को बताया था शहीद

harbhajan singh

नई दिल्ली

खालिस्तानी आतंकी जनरैल सिंह भिंडरावाले को शहीद बताकर बुरी तरह फंसे हरभजन सिंह ने माफी मांग ली है। भारतीय क्रिकेट टीम से दरकिनार किए गए अनुभवी ऑफ स्पिनर ने सोशल मीडिया पर बयान जारी किया है।

हाथ जोड़ते हुए उन्होंने लिखा कि इंस्टाग्राम पर लगाई गई एक स्टोरी के लिए मैं माफी के साथ सफाई देना चाहता हूं। वो वॉट्सएप्प पर प्राप्त एक तस्वीर थी, जिसे बिना पढ़े और समझे मैंने शेयर कर दी। मैं अपनी गलती स्वीकारता हूं। न तो मैं उस विचारधारा का समर्थक हूं और न ही उनमें से किसी व्यक्ति का। मैं एक सिख हूं, जो देश के लिए लड़ेगा न कि खिलाफ। अपने देशवासियों की भावनाओं को ठोस पहुंचाने के लिए मैं बिना शर्त माफी मांग रहा हूं। मैंने 20 साल अपना खेल-पसीना देश के लिए बहाया है और जो भी हिंदुस्तान के खिलाफ है, हमेशा उसके खिलाफ ही रहूंगा।

क्या था पूरा मामला?

40 वर्षीय हरभजन ने अपने इंस्टाग्राम स्टोरी में भिंडरवाले को शहीद बताने की कोशिश करते हुए उसे प्रणाम किया था। स्टोरी में लिखा गया कि सम्मान के साथ जीना धर्म के लिए मरना। 1 जून से छह जून 1984 को सचखंड श्री हरिमंदर साहिब पर शहीद होने वाले सिंह-सिंहनियों की शहादत को कोटि-कोटि प्रणाम। इसके बाद हरभजन ट्विटर पर ट्रोल होने लगे। अपनी फिरकी में दुनिया भर के दिग्गज बल्लेबाजों को फंसाने वाले हरभजन ने जो स्टोरी शेयर की थी, उसमें भिंडरवाले की नीली पगड़ी में एक फोटो भी लगाया गया है।

क्या था ऑपरेशन ब्लू स्टार?

6 जून, 1984 को देर रात जरनैल सिंह भिंडरावाले (अलगाववादी नेता) की मौत के बाद लाश मिलने पर ऑपरेशन ब्लू स्टार खत्म हो गया था। इसमें 83 सैनिक मारे गए थे, जिसमें 3 सेना के अफसर थे। इस दौरान 492 लोग मारे गए थे, जबकि 248 लोग घायल हुए थे। दरअसल, उस समय पंजाब को भारत से अलग कर खालिस्तान राष्ट्र बनाने की मांग जोर पकड़ने लगी थी। इसलिए इस ऑपरेशन को अंजाम दिया गया था।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget