फिर बरसे रामदेव

एलोपैथी पर पीछे हटने के मूड में नहीं बाबा


नई दिल्ली

एलोपैथी बनाम आयुर्वेद पर गहराए विवाद से योग गुरु बाबा रामदेव पीछे हटने के मूड में कतई नहीं दिख रहे। अब उन्होंने बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार का एक वीडियो शेयर कर एलोपैथी पर तंज कसा है। बाबा रामदेव ने अक्षय कुमार के दो वीडियो शेयर करते हुए उनकी ही बात को कैप्शन में लिखा है। बाबा रामदेव ने लिखा, आप अपनी बॉडी के खुद ब्रांड अंबेसडर बनें। सिंपल और हेल्दी लाइफ जिएं। आओ दुनिया को दिखा देते हैं कि हमारे हिंदुस्तानी योग व आयुर्वेद में जो ताकत है, वह किसी अंग्रेज के केमिकल इंजेक्शन में नहीं है। इससे पहले आमिर खान के शो सत्यमेव जयते की भी एक क्लिप शेयर कर बाबा रामदेव ने एलोपैथी पर निशाना साधा था। बाबा रामदेव की ओर से शेयर किए गए वीडियो में अक्षय कुमार कहते हैं, 'मेरे बारे में बहुत कम लोग जानते हैं कि बीते 25 सालों से मैं आयुर्वेद को फॉलो करते आया हूं। जैसे आप अपनी गाड़ी की सर्विसिंग कराते हैं, वैसे ही मैंने 14 दिनों तक अपनी बॉडी की सर्विसिंग कराई है। 

कुदरत ने हमारे लिए बहुत बड़ा खजाना आयुर्वेद का दिया है, लेकिन हम उसकी कदर ही नहीं कर रहे हैं। हम अंग्रेजी दवाएं खा रहे हैं और स्टेरॉयड के इंजेक्शन ले रहे हैं। स्पा में जाकर मसाज कराके अच्छी सेहत ढूंढ रहे हैं। मजे की बात यह है कि हम जिन विदेशियों के तरीके अपना रहे हैं, लेकिन वे लोग यहां आयुर्वेद में इलाज खोज रहे हैं।'एक्टर ने कहा, 'मैं एलोपैथ के बारे में कुछ नहीं कहना चाहता हूं, लेकिन हम आयुर्वेद, नेचुरोपैथी जैसी चीजों को क्यों भी भूल रहे हैं।' इससे आगे अक्षय कुमार कहते हैं कि ऐसी कोई बीमारी नहीं है, जिसका इलाज आयुर्वेद में न हो। मैं इसके लिए शर्त लगाने के लिए तैयार हूं। आपको पता है कि हमारी सरकार में आयुष के नाम से मंत्रालय है, जो इलाज की वैकल्पिक पद्धति को प्रोत्साहित करती है। अक्षय कुमार कहते हैं कि हमारा हाल दीये तले अंधेरा जैसा है। वह कहते हैं कि मैं जिस आश्रम में कुछ दिन बिताकर आया हूं, उसमें मैं अकेला हिंदुस्तानी था। मैं यह बात किसी आयुर्वेद कंपनी के ब्रैंड अंबैसडर के तौर पर नहीं बल्कि अपने शरीर के ब्रांड एंबैसडर के तौर पर बोल रहा हूं। आप इसे अपनाकर देखिए, मेरी गारंटी है कि आप हर सुबह मुस्कान के साथ उठेंगे।

बता दें कि पिछले दिनों बाबा रामदेव का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वह एलोपैथी पर तंज कसते हुए दिख रहे थे कि टीके लगवाने के बाद भी कई डॉक्टरों की मौत हो गई। उनके इस बयान पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने कड़ा ऐतराज जताते हुए माफी की मांग की थी। बाबा रामदेव ने हेल्थ मिनिस्टर डॉ. हर्षवर्धन के दखल पर अपनी बात वापस लेने की बात कही थी, लेकिन इसके बाद उन्होंने एलोपैथी से 25 सवाल पूछ लिए थे। इसके बाद विवाद फिर गहरा गया था। तब से ही दोनों पक्षों की ओर से लगातार बयान जारी किए जा रहे हैं।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget