चौथी मंजिल से बेटे को फेंक कर पिता ने लगाई छलांग

बरेली

जिले के गंगाशील अस्पताल में भर्ती मरीज ने शुक्रवार की दोपहर 10 साल के बेटे संग छत से कूदकर जान दे दी। घटना के बाद अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई। मरीज चार दिन पहले अस्पताल में भर्ती हुआ था। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।  गुलाबनगर का रहने वाला दीपक कश्यप चार साल पहले तक दुकान चलाता था। मां ने बताया कि वह नशे का आदी था और मानसिक रूप से परेशान था। दुकान बंद होने की वजह से आर्थिक तंगी से जूझ रहा था। चार दिन पहले उसे गंगाशील अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 

शुक्रवार की शाम उसे डिस्चार्ज किया जाना था। दोपहर में वह 10 साल के बेटे दिव्यांश को गोद में लेकर अस्पताल की छत पर गया और अचानक वहां से छलांग लगा। 4 मंजिला इमारत से नीचे गिर कर पिता-पुत्र की मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद अस्पताल में हड़कंप मच गया। सूचना मिलने पर प्रेमनगर पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को कब्जे में ले लिया। परिजनों ने बातचीत में बताया कि मानसिक रूप से परेशान दीपक नशे का आदी हो गया था और इसकी वजह से बीमार रहता था। अस्पताल प्रबंधन ने अभी इस मामले में कुछ भी कहने से इनकार किया है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget