मानव तस्करी गिरोह का भंडाफोड़

33 बच्चों को कराया गया मुक्‍त

प्रयागराज

जंक्शन पर बाल श्रम व अन्य मक्‍सद से मानव तस्करी में लिप्त गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है। नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी के बचपन बचाओ आंदोलन एनजीओ की सूचना पर जीआरपी ने आठ लोगों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 33 बच्चों को मुक्त कराया। बिहार निवासी बच्चों को दिल्ली व पंजाब ले जाया जा रहा था। बच्चों को चाइल्ड लाइन को सौंप कर पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है।  बचपन बचाओ आंदोलन, दिल्ली के स्टेट कोऑर्डिनेटर सूर्य प्रताप मिश्रा ने बच्चों की तस्करी की सूचना राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग को दी थी। जिसके बाद चेयरमेन डॉ. विशेष गुप्ता की ओर से एसएसपी को जानकारी देकर कार्रवाई के लिए निर्देशित किया गया। जानकारी पर जंक्शन पहुंची नॉर्थ ईस्ट एक्सप्रेस की घेराबंदी कर जीआरपी ने चेकिंग श्ुारू की। इस दौरान अलग-अलग नौ लोगों के साथ कुल 33 बच्चे मिले। पूछताछ में पत चला कि वह बच्चों को बिहार से पंजाब व दिल्ली ले जा रहे थे। संतोषजनक जवाब न मिलने पर सभी को जीआरपी थाने लाया गया। जांच पड़ताल में सामने आया कि पकड़े गए जुबैर मुक्त कराए गए बच्चों में से दो का अभिभावक है, लेकिन शेष आठ लोगों का अन्य बच्चों से कोई रिश्ता नहीं है। जीआरपी ने बताया कि मौके से नौ लोग पकड़े गए थे। जिनमें से एक व्यक्ति अपने बच्चों के साथ जा रहा था। शेष आठ लोगों में मो. हाशिम, शाहिद आलम, नोमान, अब्दुल सलाम, मुशाबिर, शाह आलम, शमशुल हक, हाफिज जावेद शामिल हैं।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget