NETAP ने दर्ज की एप्रेंटिस हायरिंग में 35 फीसदी वृद्धि


नई दिल्ली

भारत की पहली वोकेशनल स्किल्स युनिवर्सिटी टीमलीज़ स्किल्स युनिवर्सिटी की ओर से देश के सबसे बड़े डिग्री एप्रेन्टिसशिप प्रोग्राम नेशनल एम्प्लॉयबिलिटी थ्रू एप्रेन्टिसशिप प्रोग्राम ने कोविड-19 महामारी के बीच इंडिया इंक में एप्रन्टिस हायरिंग में बढ़ोतरी दर्ज की है। वित्तीय वर्ष 20-21 के दौरान भर्तियों में 35 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। वास्तव में अप्रैल 2021 से लेकर अब तक भर्तियों में लगातार लगभग 40 फीसदी की बढ़ोतरी हो रही है, यह बढ़ोतरी खासतौर पर हेल्थकेयर एवं फार्मास्युटिकल्स, आईटीईएस, बीएफएसआई, ई-कॉमर्स आदि क्षेत्रों में दर्ज की गई है। इतना ही नहीं, प्रति एप्रेन्टिस औसत स्टिपेन्ड पे-आउट में भी पिछले सालों के दौरान 18 फीसदी सुधार हुआ है। वर्ष 2014 के बाद से 2700 करोड़ के स्टिपेन्ड का वितरण कर चुका है। इस अवसर पर सुमित कुमार, वाईस प्रेज़ीडेन्ट- NETAP, टीमलीज़ स्किल्स युनिविर्सटी ने कहा कि टीमलीज़ की यात्रा की शुरूआत से ही हमने महसूस किया कि भारत में नौकरियों के अवसरों की कमी उतनी बड़ी समस्या नहीं है इसके बजाए कुशल प्रतिभा की कमी सबसे बड़ी समस्या है। 

इस समस्या को हल करने का सबसे प्रभावी तरीका है एप्रेन्टिसशिप। शुरुआत में इस मॉडल को आसानी से स्वीकार नहीं किया जा रहा था। किंतु आज एप्रेन्टिसशिप को उच्च शिक्षा के साथ जोड़ने और डिग्री एप्रेन्टिसशिप उपलब्ध कराने के प्रयासों के साथ हम इस दिशा में बहुत आगे बढ़ चुके हैं। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget