आफत का बादल फटा, 13 की मौत

अमरनाथ गुफा के पास BSF और CRPF कैंपों को भारी नुकसान

amarnath cloudburst

श्रीनगर

जम्मू कश्मीर में किश्तवाड़ के होंजर डच्चन गांव में बादल फटने से चार लोगों की मौत हो गई। अब तक 17 लोगों को रेस्क्यू किया जा चुका है। 30 से 40 लोग अब भी लापता बताए जा रहे हैं। खराब मौसम की वजह से बचाव के लिए पुलिस और सेना के जवानों को मौके पर पहुंचने के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। घायलों को एयरलिफ्ट करने के लिए एयरफोर्स की भी मदद ली जा रही है।

इधर, बुधवार शाम को अमरनाथ गुफा के पास बादल फटा है। इससे भारी तबाही हुई है। BSF, CRPF और जम्मू-कश्मीर पुलिस के कैंपों को नुकसान पहुंचा है। हालांकि, अभी तक किसी की जान जाने की खबर नहीं है। इस साल कोरोना के चलते अमरनाथ यात्रा स्थगित है, इस वजह से गुफा के पास आम लोगों की मौजूदगी नहीं थी। इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें बर्फ और बारिश का सैलाब नजर आ रहा है।

वहीं, हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के बाद बाढ़ में 9 लोगों की मौत हो गई, जबकि 7 अब भी लापता हैं। इधर, लाहौल स्पीति में पिछली रात एक नाले में बाढ़ आने से कई लोगों के बह जाने की आशंका है। ITBP ने बताया कि दूसरी बटालियन की रेस्क्यू टीम ने तोजिंग नाले से अब तक 6 शव निकाले हैं।

हिमाचल प्रदेश में मंगलवार रात को 8 बजे अचानक आई इस बाढ़ में 9 लोग लापता बताए गए थे, जबकि एक की मौत मौके पर ही हो गई थी। राज्य आपदा प्रबंधन के डायरेक्टर सुदेश कुमार मोख्ता ने बताया कि बादल फटने के चलते लाहौल-स्पीति जिले में अचानक बाढ़ आई थी। चंबा जिले से भी एक शख्स बाढ़ में लापता बताया गया है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget