बच्चों के लिए डाइटरी सप्लीमेंट


अपने बहुत से लोगों को डाइटरी सप्लीमेंट लेते देख और सुना होगा। यह सप्लीमेंट्स इसलिए उन पोषक तत्वों की को पूरा करने के लिए ली जाती हैं, जो हम अपने सामान्य खाने से नहीं ले पाते हैं।  कुछ वयस्क, तो कुछ बच्चों को भी डाइटरी सप्लीमेंट्स दी जाती हैं। यह एक तरीके से बच्चों में उनके इष्टम स्वास्थ्य और विकास के लिए दी जाती हैं। लेकिन बच्चों के लिए ये सप्लीमेंट्स फायदेमंद हैं या नुकसानदाय, आइए इस लेख में विस्तार से जानें।

बच्चों के लिए डाइटरी सप्लीमेंट्स 

बच्चों के लिए पोषक तत्वों की कमी को पूरा करने के लिए डाइटरी सप्लीमेंट्स दी जाती हैं। जिसमें बच्चों के लिए ये सप्लीमेट्स गम्स, चबाने वाली गोलियों और पाउडर व ड्रिंक्स के रूप में मिलती हैं। ये डाइटरी सप्लीमेंट्स बच्चों को सभी आवश्यक विटामिन्स प्रदान करती हैं। हालांकि इन डाइटरी सप्लीमेंट्स के कुछ फायदे, तो कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। यदि आप अपने बच्चे को ये सप्लीमेंट्स देते हैं, तो आप यहां नीचे दी गई कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखें। 

डाइटरी सप्लीमेंट्स के नुकसान 

हेल्थ एक्सर्पट्स के अनुसार, ऐसा माना जाता है कि डाइटरी सप्लीमेंट्स पर लगा लेबल कहता है कि यह प्राकृतिक हैं, तो इसका मतलब यह नहीं कि ये आपके बच्चे के लिए पूरी तरह से सुरक्षित है। इसकी गलत खुराक बच्चों में कुछ स्वास्थ्य समस्याओं का कारण भी बन सकती हैं। जैसे: 

डाइटरी सप्लीमेंट्स के फायदे 

जैसा कि हमने ऊपर भी आपको बताया है कि इसके कुछ नुकसान और कुछ फायदे भी हैं, तो यहां अब आप डाइटरी सप्लीमेंट्स के कुछ फायदे भी जान लें। 

मल्टीविटामिन

छोटे बच्चे, जिन्हें कि शाकाहारी भोजन खिलाया जाता है, उन्हें डाइट्री सप्लीमेंट्स का फायदा होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि यह उन्हें विटामिन बी 12 जैसे विकास के लिए आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करता है।

विटामिन डी

डाइटरी सप्लीमेंट्स लेने से आपके बच्चे को विटामिन डी प्राप्त होता है। विटामिन डी बच्चों के स्वस्थ विकास और स्वस्थ शरीर के लिए काफी जरूरी होता है। एक अध्ययन में भी पाया गया है कि बचपन में विटामिन डी की कमी, बच्चों में हाई ब्लड प्रेशर के खतरे को बढ़ाती है। इसके अलावा, यह विटामिन डी बच्चों की मजबूत हड्डियों के लिए भी जरूरी है। 

प्रोबायोटिक्स

यदि आपका बच्चा एंटीबायोटिक्स ले रहा है, तो उसे दस्त या कब्ज जैसी प्रतिक्रियाओं को कम करने के लिए प्रोबायोटिक्स दिया जा सकता है। लेकिन यह तब दें, जब एक बार एंटीबायोटिक कोर्स पूरा हो जाए। 

फिश ऑयल 

फिश ऑयल सप्लीमेंट या मछली का तेल ओमेगा -3 फैटी एसिड से भरपूर होता है, जो बच्चे के मस्तिष्क के विकास के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके अलावा, यह मांसपेशियों के विकास समेत कई फायदों से भरपूर माना जाता है। 


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget