संगीत सुनिए श्वसन रोगों को दूर भगाइए


गीत सुनने ने ना सिर्फ मन को शांती मिलती है बल्कि यह रोगों के उपचार में भी कारगर है। एक शोध में पता चला है कि म्यूजिक थैरेपी से श्वसन संबंध बीमारियों से निजात मिलता है। अध्ययन के अनुसार संगीत क्रॉनिक ऑस्ट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज के इलाज में काफी कारगर साबित हो सकता है। सीओपीडी डिजीज में रोगी को सांस की तकलीफ, घरघराहट, खांसी, जुकाम और सीने में जकडन होती है और इन लक्षणों के साथ यह बीमारी बढती रहती है। शोधकर्ताओं का कहना है कि म्यूजिक थैरेपी से इन समस्याओं के इलाज में काफी मदद मिल सकती है। इस शोध में सीओपीडी से पीडित 68 लोगों को शामिल किया गया। शोध के दौरान सीओपीडी से पीडित इन रोगियों को म्यूजिक सेशन दिया गया। साथ ही इनको संगीत से जुडी गतिविधियों में भी शामिल किया गया। शोध में इन रोगियों के स्वास्थ्य में सुधार देखा गया। अमेरिका के न्यूयॉर्क में माउंट सिनाई बेथ इजरायल अस्पताल में अध्ययन के सह लेखक जोनाथन रस्किन का कहना है कि श्वसन संबंधी रोगों में म्यूजिक थैरेपी एक व्यापक आधार प्रदान करता है। यह अध्ययन वैज्ञानिकों द्वारा किया गया है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget