राहुल का वो ट्रैक्टर जब्त

rahul gandhi

नई दिल्ली

संसद के मानसून सत्र के बीच नए कृषि कानूनों के विरोध में सियासत गरमा गई है। विपक्ष और किसान संगठन इन कानूनों को रद्द करने की मांग पर अड़े हुए हैं। वहीं सरकार का कहना है कि वह चर्चा के लिए तैयार है किसान संगठनों के पास ही इस मसले पर कोई प्रस्‍ताव नहीं है। सरकार ने कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी पर किसानों को गुमराह करने और देश में अराजकता का वातावरण बनाने का आरोप लगाया है।

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सोमवार कांग्रेस पर करारा पलटवार किया। उन्‍होंने कहा कि राहुल गांधी को गांव, गरीब, किसान के बारे में कोई अनुभव और दर्द नहीं है। राहुल गांधी को सोचना चाहिए कि जब आपने अपने घोषणापत्र में इन्हीं कानूनों (कृषि कानूनों) को लाने के लिए कहा था तो आप उस समय झूठ बोल रहे थे या आज झूठ बोल रहे हैं।

उनकी इन्हीं आदतों और ऐसी हल्की समझ की वजह से वह कांग्रेस में भी सर्वमान्य नेता नहीं हैं। रही बात किसान यूनियन की तो उसके पास कोई प्रस्ताव नहीं है, इसलिए वो चर्चा करने के लिए नहीं आ रहे हैं। भारत सरकार किसान यूनियन के साथ चर्चा करने के लिए तैयार है।

वहीं किसान नेता राकेश टिकैत ने आंदोलन के नए चरण का एलान किया है। उन्‍होंने सोमवार को कहा कि आंदोलन आज से शुरू हो चुका है। लखनऊ को भी दिल्ली बनाया जाएगा। इससे पहले राहुल गांधी नए कृषि कानूनों के विरोध में ट्रैक्टर चलाकर संसद भवन परिसर के गेट तक पहुंचे, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें रोका और ट्रैक्टर पर नंबर प्लेट न होने से उसे जब्त कर रणदीप सुरजेवाला, कांग्रेस सचिव प्रणव झा, श्रीनिवास बीवी और कई अन्य नेताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget