मुंबई में थम गई कोरोना की दूसरी लहर


मुंबई

मनपा ने कोरोना की दूसरी लहर पर भी काबू पाने  में कामयाबी  हासिल की है। दूसरी लहर में एक वक्त एैसा था कि मुंबई में रोजाना  11 हजार कोरोना के मरीज मिल रहे थे । जो अब 500 के भीतर आ गया है।

मरीजों की संख्या कम होने से मरीजों के दोगुना होने का प्रमाण बढ़ गया है। 12 मई को 176 दिन में मरीजों की संख्या दोगुनी हो रही थी। जो अब 750 दिन बढ़कर 926 दिन पहुंच गई है। इस कदर मरीजों की संख्या में आई गिरावट से माना जा सकता है कि  मुंबई में कोरोना की दूसरी लहर कम हुई है। फरवरी के मध्य के बाद कोरोना की दूसरी लहर मुंबई में आई थी । दूसरी लहर आने के बाद भी मनपा द्वारा  स्वास्थ्य सुविधा को लेकर पहली लहर से निपटने के लिए की गई तैयारी एव व्यवस्था का उपयोग दूसरी लहर में काम आया और मनपा कोरोना की दूसरी लहर से निपटने में कामयाब रही।  मरीजों के सफल इलाज और इलाज को लेकर ऑक्सीजन आदि की व्यवस्था सहित अन्य साधन सामग्री उपलब्ध होने के कारण मनपा को अधिक परेशानी झेलनी नहीं पड़ी। मनपा मरीजों की वृद्धि पर ब्रेक लगाने में सफल रही है और वर्तमान में अब  केवल 500 मरीज से भी काम मरीज रोजाना मिल रहे हैं। मरीजों की संख्या में गिरावट के कारण मरीजों के दोगुना होने  का प्रमाण तेजी से बढ़ रहा है। तीन महीने में लगभग  750 दिन  मरीजों की संख्या दोगुनी हो गई है, जिसके चलते अब कोरोना संक्रमित होने वाले मरीजों के दोगुना होने का प्रमाण 926 दिन हो गया है।  इस बीच, मरीन लाइन्स में सबसे अधिक मरीजों के दोगुना होने का प्रमाण 1,831 दिन हो गया है, जबकि उसके बाद सैंडर्स रोड 1,185 पर है । कोरोना के मरीजों में गिरावट और मरीज के दोगुने होने की अवधि दोनों एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। यही कारण है कि जब  रोगी घटता है, तब तक रोगी स्वाभाविक रूप से दुगना बढ़ता हुआ प्रतीत होता है। मनपा कोरोना की दूसरी लहर को रोकने में सफल रही है। नतीजतन, समय के साथ रोगियों की संख्या दोगुनी हो गई है, जो मुंबई वासियों के लिए राहत की बात है।

विभाग-मरीजों के दोगुना होने का प्रमाण इस प्रकार है

मरीन लाइन्स - 1,831, सॅन्डहस रोड-1,185, परे - 934, घाटकोपर- 1,024, चेंबूर पूर्व - 1,149, भायखला -1,041 चेंबूर पश्चिम - 860, दादर -978,मुलुंड - 912, खार-886, माटुंगा-759, कुर्ला-1,114 , अंधेरी पूर्व-1,183, एल्फिंस्टन-,082, मलाड-972, भांडुप-771, ग्रेट रोड-1,018, बांद्रा -755, कोलाबा- 1,056, बोरीवली-1,043 गोरेगांव- 839, अंधेरी पश्चिम 737, दहिसर- 796


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget