'कोरोना से लड़ने के लिए देश में पर्याप्‍त इम्यूनिटी'


नई दिल्ली

कोरोना की दूसरी लहर में देश में सामने आए मामले और मरीजों की मौत ने सरकार से लेकर जनता तक की चिंता बढ़ा दी थी। उस दौरान दवाई और ऑक्सीजन की कमी के कारण कोरोना मरीजों की मौत की खबरें आम थी। हालांकि राज्य और केंद्र सरकार का दावा है कि ऑक्सीजन की कमी के कारण देश में मौत नहीं हुई। इस बीच दिल्ली स्थित AIIMS के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया का कहना है कि आने वाले महीनों में वायरस नाटकीय रूप से अपने वैरिएंट नहीं बदलेगा। उन्होंने यह भी कहा कि अब देश में प्रयाप्त मात्रा में लोगों में इस महामारी से लड़ने की क्षमता है। डॉ. गुलेरिया ने कहा कि हम यह अनुमान नहीं लगा सकते हैं कि वायरस कैसे व्यवहार करेगा, लेकिन ऐसा लगता है कि आने वाले महीनों में वायरस इतना नाटकीय रूप से उत्परिवर्तित नहीं होगा। उन्होंने कहा कि सीरो सर्वे के अनुसार, जनसंख्या में प्रतिरक्षा की पर्याप्त मात्रा है। हालांकि गुलेरिया ने यह भी कहा कि अगर अगले कुछ महीनों तक, जब तक कि हमारी आबादी के एक बड़े हिस्से का टीकाकरण नहीं हो जाता, हमें भीड़-भाड़, गैर-जरूरी यात्रा से बचना चाहिए और कोविड-उपयुक्त व्यवहार बनाए रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि हम तीसरी लहर को अपना पैर पसारने से फिलहाल रोक सकते हैं।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget