अजित पवार के करीबी की मिल सीज

मुंबई

महाराष्ट्र स्टेट कोऑपरेटिव बैंक घोटाले में प्रवर्तन निदेशालय ने कार्रवाई की है। इस मामले में ईडी ने 65 करोड़ रुपए मूल्य की एक शुगर मिल को सीज किया है। ईडी के अधिकारियों ने गुरुवार को सातारा जिले के चिमनगांव-कोरोगांव इलाके में स्थित जारंदेश्वर चीनी मिल को अस्थायी रूप से सीज कर दिया। इस मामले में जांच एजेंसी की तरफ से यह पहली कार्रवाई है। रिपोर्ट के मुताबिक इस कंपनी के तार राज्य के डिप्टी सीएम अजित पवार और उनकी पत्नी से भी जुड़े हो सकते हैं, जिस प्रॉपर्टी को ईडी ने सीज किया है उसे गुरु कमोडिटी सर्विस प्राइवेट लिमिटेड के नाम से जाना जाता है। यह संपत्ति जरनदेश्वर शुगर मिल्स प्राइवेट लिमिटेड को लीज पर दिया गया था। जरनदेश्वर शुगर मिल्स का बड़ा शेयर Sparkling Soil Pvt Ltd के पास है। जांचकर्ताओं ने बताया है कि यह फर्म महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार और उनकी पत्नी सुनेत्रा अजीत पवार से संबंधित है। साल 2019 में बॉम्बे हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका दायर किए जाने के बाद महाराष्ट्र स्टेट कॉपरेटिव बैंक घोटाला सामने आया था। याचिकाकर्ताओं का आरोप था कि कई चीनी मिलों ने करोड़ों का कर्ज नहीं चुकाया था, जिसके बाद बैंकों ने मिलों को कुर्क कर उनकी नीलामी कर दी थी। बताया जा रहा है कि अजीत पवार बैंकों के निदेशकों में से एक थे और उन्होंने नीलामी में कुछ मिलें खरीदी थीं।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget