लेकिन दीदी की राह मुश्किल!

 बंगाल विस में विधान परिषद का प्रस्ताव पास


कोलकाता

पश्चिम बंगाल विधानसभा ने मंगलवार को राज्य में विधान परिषद के गठन का प्रस्ताव पास कर दिया। दरअसल, राज्य सरकार की मंशा विधान परिषद के रास्ते ममता बनर्जी की मुख्यमंत्री की गद्दी कायम रखने की है। ऐसे में ममता सरकार के प्रस्ताव के पक्ष में 196 मत पड़े, जबकि 59 मत विरोध में डाले गए। अब सवाल उठता है कि क्या यह प्रस्ताव पास होने भर से बंगाल में विधान परिषद का गठन मुमकिन है या अभी दीदी की राह में कई रोड़े बाकी हैं?

अब इस प्रस्ताव के सामने लोकसभा और राज्यसभा की चुनौती होगी, क्योंकि संसद की स्वीकृति के लिए यह प्रस्ताव केंद्र सरकार के पास भेजा जाएगा। अगर मोदी सरकार इस प्रस्ताव को मंजूर नहीं करती है तो बंगाल की ममता सरकार के साथ एक बार फिर टकराव की स्थिति बन सकती है। 

दरअसल नंदीग्राम विधानसभा क्षेत्र से चुनावी संग्राम में उतरीं ममता बनर्जी को भाजपा प्रत्याशी शुभेंदु अधिकारी से हार झेलनी पड़ी थी। चुनाव में हार के बावजूद ममता बनर्जी ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। अब उन्हें छह महीने के अंदर विधानसभा का सदस्य बनना अावश्यक है। लेकिन कोरोना के चलते फिलहाल अभी बंगाल में उप चुनाव कराना संभव नहीं है। इसलिए ममता बनर्जी विधान परिषद का गठन कर अपनी राह आसान करना चाहती हैं। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget