पवार की पॉलिटिक्स से कांग्रेस को करंट!

sharad pawar

नई दिल्ली

राकांपा प्रमुख शरद पवार ने एक बार फिर कांग्रेस को गच्चा दे दिया। विगत मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना पर सभी दलों के फ्लोर लीडर्स की बैठक बुलाई थी जिसका कांग्रेस ने बहिष्कार किया था, लेकिन उसके साथी दल बैठक में शामिल हुए और कांग्रेस अलग-थलग पड़ गई। कांग्रेस सूत्रों ने दावा किया कि पहले पवार ने पीएम की बैठक में न जाने के संकेत दिए थे लेकिन बाद में सुप्रिया सुले को भेज दिया। पावर पॉलिटिक्स ने एक बार फिर कांग्रेस को मझधार में छोड़ दिया।

कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक पार्टी को राकांपा प्रमुख ने बातचीत में संकेत दिया था कि सिर्फ पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन देखने क्यों जाना चाहिए? इस बात को पवार का भी बॉयकॉट समझ राज्यसभा में नेता विपक्ष खड़गे ने पीएम की बैठक में न जाने का फैसला कर लिया। बाद में न सिर्फ पवार की पार्टी बल्कि शिवसेना ने भी बैठक में हिस्सा लिया। जब तक कांग्रेस को गेम समझ आया तब तक बहुत देर हो गई थी और कांग्रेस अलग थलग पड़ गई। इसके बाद कांग्रेस के नेता राहुल गांधी ने महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले को महाराष्ट्र में कांग्रेस को मजबूत करने के नाम पर अकेले चुनाव लड़ने का मंत्र दे दिया। 


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget