एसबीआई सेविंग्स प्लस खाते पर मिलता अधिक ब्याज


नई दिल्ली 

एसबीआई सेविंग्स प्लस अकाउंट मल्टी ऑप्शन डिपॉजिट स्कीम से जुड़ा एक बचत बैंक खाता है, जिसमें बचत बैंक खाते से एक सीमा से अधिक की अतिरिक्त राशि को ₹1000 के गुणकों में खोले गए सावधि जमा में ऑटोमेटिक रूप से ट्रांसफर कर दिया जाता है। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) बचत खाते की ब्याज दर 3 प्रतिशत (सालाना 2.70 प्रतिशत) से नीचे जा चुकी है। एसबीआई ग्राहकों को ऐसे विकल्पों की तलाश हैं, जहां वे अपनी जोखिम उठाने की क्षमता को बदले बिना अधिक रिटर्न प्राप्त कर सकें। ऐसे एसबीआई ग्राहकों के लिए एसबीआई सेविंग्स प्लस अकाउंट एक बेहतर विकल्प है। मल्टी ऑप्शन डिपॉजिट स्कीम से जुड़ा यह एसबीआई सेविंग्स प्लस खाता बचत खाते से एक सीमा से अधिक की सरप्लस राशि ₹1000 के गुणकों में खोले गए सावधि जमा में खुद स्थानांतरित हो जाती है। एसबीआई की आधिकारिक वेबसाइट - sbi.co.in पर उपलब्ध इस विशेष एसबीआई बचत खाते के विवरण के अनुसार इसमें सावधि जमा की अवधि 1 वर्ष से 5 वर्ष तक है। एमओडी जमा पर भी लोन मिल सकता है। फ्लेक्सी सावधि जमा की तरह इस एसबीआई बचत प्लस खाते में एक सीमा से ऊपर की राशि को सावधि जमा (एफडी) में स्थानांतरित कर दिया जाता है और यदि जमा रकम मिनिमम बैलेंस से कम हो जाती है, तो न्यूनतम एसबीआई बचत खाता शेष बनाए रखने के लिए घाटे को सावधि जमा (एफडी)से स्थानांतरित कर दिया जाता है।

एसबीआई बचत प्लस खाता के लिए पात्रता 

वैध केवाईसी दस्तावेज रखने वाले सभी व्यक्ति   

      बचत  बैंक खाता खोलने के पात्र हैं 

 अकेले, संयुक्त रूप से या किसी के साथ या 

      उत्तरजीवी, पूर्व या उत्तरजीवी, कोई भी या 

     उत्तरजीवी इसका लाभ उठा सकता है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget