हीथर के रनआउट को लेकर छिड़ा विवाद


नई दिल्ली

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने रविवार को खेले गए तीन मैचों की सीरीज के दूसरे टी-20 इंटरनेशनल मैच में मेजबान इंग्लैंड को रोमांचक मुकाबले में आठ रनों से हराया। इस मैच में एक समय इंग्लैंड का स्कोर 13.3 ओवर में दो विकेट पर 106 रन था। टैमी ब्यूमाउंट और कप्तान हीथर नाइट जबर्दस्त बल्लेबाजी कर रही थीं और ऐसा लगने लगा था कि इंग्लैंड की टीम आसानी से मैच जीतकर सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बना लेगी। इसके बाद लगातार दो गेंद पर ब्यूमाउंट और हीथर आउट हुईं और यहां से मैच पूरी तरह से पलट गया। 

ब्यूमाउंट को ​दीप्ति शर्मा ने एलबीडब्ल्यू आउट किया और फिर हीथर रनआउट हुईं। हीथर के रनआउट को लेकर विवाद छिड़ गया है। कुछ लोगों का मानना है कि हीथर को आउट नहीं दिया जाना चाहिए था, क्योंकि यह फील्डिंग ऑब्सट्रक्शन का मामला था। हीथर जब रनआउट हुईं तो उनके और विकेट के बीच में दीप्ति आ गई थीं। दीप्ति हालांकि इस दौरान जानबूझकर सामने नहीं आई थीं, लेकिन उनके बीच में होने से हीथर का रनआउट और टीम इंडिया के लिए और आसान हो गया था। हीथर उस समय 30 रनों पर खेल रही थीं। उनके आउट होते ही इंग्लैंड की पारी लड़खड़ा गई और भारतीय स्पिनरों ने टीम इंडिया को जीत दिलाई। पूनम यादव ने 4 ओवर में 17 रन देकर दो विकेट लिए, जबकि दीप्ति शर्मा ने चार ओवर में 18 रन देकर एक विकेट लिया। आईसीसी के नियम 41.5 के मुताबिक अगर कोई फील्डर जानबूझकर बल्लेबाज का रास्ता रोकने की कोशिश करता है/करती है, तो यह फील्ड ऑब्स्ट्रक्शन के अंदर आएगा और अंपायर इस पर आखिरी फैसला लेंगे कि फील्डर ने ऐसा जानबूझकर किया या फिर अंजाने में हुआ।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget