राहुल को ‘वो’ भी नहीं मानते नेता

fadanvis

मुंबई 

पेट्रोल -डीजल की बढ़ते कीमतों को लेकर मुंबई कांग्रेस द्वारा निकाले गए बैलगाड़ी आंदोलन पर पूर्व मुख्यमंत्री और विपक्ष नेता देवेंद्र फड़नवीस ने निशाना साधा है। शनिवार को मीडिया से बात करते हुए विपक्ष नेता ने कहा कि आंदोलन में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को बुलाना चाहिए था। आंदोलन के दौरान टूटी बैलगाड़ी पर खुशी जाहिर करते हुए फड़नवीस ने कहा कि राहुल गांधी को एक राष्ट्रीय नेता के रूप में बैल भी पसंद नहीं करते इसलिए बैलगाड़ी टूट गई। उन्होंने कहा कि विपक्षी कांग्रेस पार्टी को तेल के कीमत को लेकर आंदोलन करने का कोई अधिकार नहीं है। राज्य और देश की जनता सब जानती है। यूपीए सरकार में तेल की क्या कीमत थी यह जनता को मालूम है। केंद्रीय मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर पंकजा मुंडे की बार - बार नाराजगी की आ रही खबर पर सफाई देते हुए विपक्ष नेता ने कहा कि पंकजा मुंडे नाराज नहीं हैं, हम दोनों ने इस पर स्पष्टीकरण दे दिया है। इस संदर्भ में जो भी लोग अफवाह फैलाना  चाहते हैं फैलाएं, लेकिन  इस पर पंकजा मुंडे ने स्पष्टीकरण दे दिया है। विधानसभा अध्यक्ष पद चुनाव को लेकर महाविकास आघाड़ी सरकार की जमकर आलोचना की। उन्होंने कहा कि अगर सत्तापक्ष के तीनों पार्टियों में समन्वय होता तो मानसून सत्र के दौरान विधानसभा अध्यक्ष पद का चुनाव हो जाता, लेकिन तीनों पार्टी में समन्वय नहीं है। फड़नवीस ने कहा कि जिस तरह से सरकार को स्वप्निल लोणकर  की आत्महत्या के बाद कोई ठोस कदम उठाना चाहिए था, लेकिन सरकार ने उठाया नहीं। एमपीएससी के छात्रों को राहत देने के लिए सरकार कुछ नहीं कर रही है। बता दें कि शनिवार को पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष भाई जगताप की अध्यक्षता में  आंदोलन का आयोजन किया गया था। ईंधन की कीमतों में वृद्धि के विरोध में भाई जगताप और अन्य कांग्रेसी नेता बैलगाड़ियों में आंदोलन में शामिल हुए, लेकिन बैलगाड़ी की क्षमता का एहसास न होने पर नेता और कार्यकर्ता बैलगाड़ी पर चढ़ गए। भारी बोझ के कारण बैलगाड़ी टूट गई और भाई जगताप सहित बैलगाड़ी पर  सवार सभी नेता व कार्यकर्ता  जमीन पर गिर पड़े। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget