खतरे में मुकुल रॉय की विधायकी


कोलकाता

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के कुछ दिनों बाद भारतीय जनता पार्टी का दामन छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में वापसी करने वाले मुकुल रॉय की विधायकी खतरे में पड़ गई है। दरअसल भाजपा ने पश्चिम बंगाल विधानसभा में दल बदल विरोधी कानून के तहत मुकुल रॉय को अयोग्य ठहराने की अपील की है। इस पर शुक्रवार को विधानसभा में अध्यक्ष के कक्ष में सुनवाई हुई। उधर, भाजपा नेता और पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी ने इस मसले पर कोर्ट जाने की बात कही है।

भाजपा नेता और पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी ने बीते दिनों दल बदल विरोधी कानून के तहत विधानसभा में शिकायत दर्ज कराई थी। इसके साथ ही उन्‍होंने विधानसभा अध्यक्ष बिमान बनर्जी से मुकुल रॉय की विधायक पद की सदस्यता रद्द करने की अपील की थी। इस पर शुक्रवार को हुई सुनवाई के बाद सुवेंदु अधिकारी ने कहा कि हम सोमवार को आदेश की प्रति प्राप्त करेंगे। हमें सिस्टम से कोई उम्मीद नहीं है। हम अगस्त में अदालत जाने की योजना बना रहे हैं।

 अध्यक्ष को मामले को समय पर पूरा करना चाहिए और फैसला आना चाहिए, यह हमारी मांग है।

सुवेंदु अधिकारी ने कहा कि इस समय हमारी प्राथमिकता उपचुनाव के स्थान पर कोरोना महामारी के खिलाफ टीकाकरण होना चाहिए। उन्होंने कहा, 'इस समय उपचुनावों का आयोजन नहीं कराया जाना चाहिए। इस समय हमारी प्राथमिकता कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ टीकाकरण होना चाहिए। बंगाल सरकार मामले कम कर रही है और रोज 1000 से कम मामले दिखा रही है।' अधिकारी ने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल सरकार सही आंकड़े छिपा रही है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget