बार-बार बाढ़ से प्रभावित होने वाले गांवों का हो सर्वेक्षण

सुरक्षित स्थानों पर किया जाए पुनर्वसनः फड़नवीस

fadanvis

मुंबई 

राज्य में कई दिनों से हुई भारी बारिश के कारण कोकण और पश्चिम महाराष्ट्र में आई बाढ़ के कारण कोल्हापुर, सांगली और सातारा जिले की स्थिति भयानक हो गई है, जिसे देखते हुए राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और विपक्ष नेता देवेंद्र फड़नवीस ने ट्वीट के माध्यम से राज्य सरकार को सलाह दी है। फड़नवीस ने कहा है कि कोल्हापुर और सांगली क्षेत्रों में स्थिति को नियंत्रित करने के लिए तत्काल कदम उठाने की जरूरत है। ऐसे प्राकृतिक आपदा के समय कर्नाटक सरकार के साथ समन्वय स्थापित किया जाना चाहिए।

फड़नवीस ने आगे कहा कि भविष्य में इस तरह की दुर्घटना को रोकने के लिए कोल्हापुर, सांगली, सातारा, रायगड सहित अन्य जिलों के उन गांवों का सर्वेक्षण किया जाना चाहिए, जहां बार-बार बाढ़ आती रहती है। ऐसे गांवों के नागरिकों को तत्काल सुरक्षित स्थानों पर पुनर्वसन किया जाना चाहिए। फड़नवीस ने कहा कि कोकण और पश्चिम महाराष्ट्र में भविष्य को देखते हुए राज्य सरकार को उपाय करने की जरूरत है, उन्होंने कहा कि तलई गांव में मकान नए हैं फिर भी सभी नागरिकों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरण किया जाए। साथ ही अन्य खतरनाक गांवों का तत्काल सर्वेक्षण किया जाना चाहिए। कोल्हापुर, सांगली, सातारा, रायगड, रत्नागिरी, ठाणे और पालघर जिलों में जोखिम का आकलन तत्काल किया जाए. कोकण की भौगोलिक स्थिति और संकट को देखते हुए कोकण के लिए एक स्वतंत्र आपदा प्रबंधन प्रणाली को लागू किया जाना चाहिए। बरसात में इसके लिए स्वतंत्र जनशक्ति उपलब्ध कराई जानी चाहिए।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget