राजस्थान में अब गहलोत की नहीं चलेगी!

मंत्रिमंडल में फेरबदल पर कांग्रेस हाईकमान ही लेगा फैसला

ashok gehlot

जयपुर

पंजाब कांग्रेस में जारी लंबी कलह अब खत्म हो गई है। वहीं अब राजस्थान में सियासी हलचल तेज हो गई है। राजस्थान में मंत्रिमंडल में विस्तार और फेरबदल की सुगबुगाहट के बीच कहा जा रहा है कि अंतिम फैसला पार्टी हाईकमान ही करेगा। कैबिनेट विस्तार को लेकर आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक हुई। बैठक से पहले पायलट गुट के नेताओं ने जमकर नारेबारी की और सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाए जाने की मांग की। राजस्थान एआईसीसी प्रभारी अजय माकन ने पार्टी की  बैठक के बाद कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियों पर जो फैसला नेतृत्व करेगा, उसे स्वीकार करेंगे। कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा, 'हम जल्द ही (राज्य मंत्रिमंडल विस्तार के संबंध में) अपने फैसले की घोषणा करेंगे। जिला और ब्लॉक स्तर की कांग्रेस टीमों की नियुक्ति पर कांग्रेस विधायकों से सलाह-मशविरा करने के लिए मैं 28 जुलाई और 29 जुलाई को फिर से राजस्थान का दौरा करूंगा।'

माकन ने संवाददाताओं से कहा, ‘पार्टी नेताओं के बीच कोई विरोधाभास नहीं है और सभी ने मंत्रिमंडल विस्तार का अंतिम फैसला पार्टी आलाकमान पर छोड दिया है।’ जयपुर पहुंचे माकन और एआईसीसी महासचिव (संगठन) के सी वेणुगोपाल ने रविवार सुबह प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पहुंचकर मंत्रियों, विधायकों और पदाधिकारियों के साथ बैठक की। माकन ने कहा कि यह एक अनौपचारिक बैठक थी, जिसमें महंगाई, पेगासस जैसे मुद्दों पर चर्चा हुई। 

राजस्थान में कांग्रेस अगले सप्ताह गहलोत मंत्रिमंडल का विस्तार कर सकती है। इसके अलावा राज्य में राजनीतिक नियुक्तियां भी की जाएंगी। इसका मकसद सचिन पायलट व अशोक गहलोत के बीच खींचतान व दोनों गुटों के बीच असंतोष को दूर करना है।   


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget