कंटेनमेंट जोन से वार्ड हो रहे मुक्त

20 वार्ड की झोपड़पट्टी हुई मुक्त  |   नौ वार्ड में इमारतें सील रहित


मुंबई

कोरोना की दूसरी लहर अवसान पर है। तीसरी लहर के भी आने का अंदेशा लगाया जाने लगा है। दूसरी लहर से निजात मिलने से मनपा के 24 वार्डों में से 20 वार्डों की किसी भी झोपड़पट्टी में अब कंटेनमेंट जोन नहीं रह गया है। जबकि नौ वार्ड में कोई भी इमारत अब सील नहीं रह गई है। दूसरी लहर में कोरोना ने हाईराइज इमारत को अधिक निशाना बनाया था। मनपा के स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 20 वॉर्डों में अब एक भी झोपड़पट्टी एंव चाल सील नहीं है। मात्र चार वार्ड की झोपड़पट्टियों, जिसमें अंधेरी  के-वार्ड पूर्व में चार, भांडूप एस वॉर्ड में तीन, कांदिवली आर-दक्षिण  और गोवंडी एम-पूर्व वॉर्ड में क्रमशः दो-दो झोपड़पट्टी सील हैं।  कंटेनमेंट जोन वाले स्लम में 13 हजार घर हैं जिसमें 57 हजार लोग रहते हैं।

मुंबई में 2,168 मंजिलें अभी भी सील

कोरोना के कारण मुंबई में अभी 2,168 मंजिले सील हैं। इसमें 82 हजार घर हैं, जिसमें तीन लाख 12 हजार लोग रहते हैं। कुर्ला और खार में एक भी मंजिल सील नहीं है, जबकि अंधेरी पश्चिम में 325, कांदिवली में 272, अंधेरी पूर्व में 260, मालाड में 202, मुलुंड में 194, बोरीवली में 160, चेंबूर पश्चिम में 125, डी विभाग ग्रांट रोड में 130 मंजिलें सील की गई हैं। जिन इमारतों में पांच से अधिक कोरोना मरीज मिलते हैं उन इमारत को कंटेनमेंट जोन घोषित कर पूरी इमारत सील किया जाता है। इसके अलावा जिन इमारतों में एक मंजिल पर दो से अधिक मरीज मिलते हैं तो पूरी मंजिल को सील किया जाता है। मुंबई में 20 मार्च 2020 के बाद कोरोना का संक्रमण शुरु हुआ था। 

तब से 28 जून तक सात लाख 20 हजार 964 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं जिसमें से छह लाख 94 हजार 796 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं। जबकि 15 हजार से अधिक लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget