चिराग को मिला नीतीश के प्रबल विरोधी का साथ

पटना

बिहार की राजनीति में इन दिनों लगातार करवटें ले रही हैं। लोजपा में चिराग के चाचा पशुपति पारस सहित पांच सांसदों के पार्टी तोड़कर अलग हो जाने के बाद चिराग पासवान को बड़ा झटका लगा था। लोजपा से सांसद तो अलग हो ही गए, इकलौता विधायक भी पहले ही अलग होकर जेडीयू में शामिल हो गया था, ऐसे में अकेले बचे चिराग को जहां किसी का साथ नही मिल रहा था, लेकिन बिहार के ही जहानाबाद से पूर्व सांसद और भारतीय सबलोग पार्टी के प्रमुख डॉ अरुण कुमार चिराग के समर्थन में खुलकर उतर गए हैं। अरुण कुमार बिहार के सीएम नीतीश कुमार के प्रबल विरोधी माने जाते हैं, ऐसे में उन्होंने चिराग को खुलकर अपना समर्थन दिया है। अरुण कुमार ने चिराग का खुलकर समर्थन करते हुए कहा कि चिराग में बड़ा नेता बनने की पूरी संभावना है। चिराग पासवान आने वाले दिनों में पूरी दलित समुदाय का देश का सबसे बड़ा चेहरा बन सकते हैं। आने वाले दिनों में 5 जुलाई को होने वाले स्वर्गीय रामविलास पासवान की जयंती के मौके पर चिराग पासवान की प्रस्तावित बिहार यात्रा को हम पूरी तरह से समर्थन देंगे। नीतीश कुमार को बिहार से हटाने के लिए आने वाले दिनों में जरूरत पड़ी तो अपने पार्टी को चिराग के पार्टी में मर्ज भी कर लेंगे।

जीतन राम मांझी को भी साथ आने का दिया न्योता

पूर्व सांसद अरुण कुमार ने चिराग का खुलकर समर्थन करने की घोषणा करते हुए हम प्रमुख जीतन राम मांझी को भी साथ आने का न्योता दिया है। अरुण कुमार ने कहा कि जीतन राम मांझी गांव और गरीबों के अच्छे नेता हैं इसलिए कभी-कभी सरकार की खामियों को भी खुलकर सामने रखते हैं। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget