मुंबई में पूरी तरह कंट्रोल कोरोना

दोगुना होने का प्रमाण हजार के पार


मुंबई 

कोरोना की तीसरी लहर आने का अंदेशा जताया जा रहा है, जिससे लोग भयभीत हैं। इस बीच मुंबई के लिए फिलहाल अच्छी खबर है। मरीजों के दोगुना होने का प्रमाण एक हजार दिन से पार चला गया है। मुंबई के 24 वार्ड  में से 16 वार्डों से कोरोना की चिंता फिलहाल पूरी तरह टल गई है। बता दें कि कोरोना मरीज के दोगुना होने का प्रमाण 1 हजार 34 दिन पहुंच गया है, जिससे यह माना जा जा सकता है कि कोरोना मुंबई में पूरी तरह नियंत्रण में है। मुंबई के कुल 24 वार्डों में से 16 वार्डों में मरीजों के दोगुना होने का प्रमाण एक हजार के पार चला  गया है। कोरोना मरीजों की संख्या दोगुना होनें का प्रमाण सबसे अधिक दिन का बी वार्ड सैंडहर्स्ट रोड परिसर है, जबकि सबसे कम दिन भांडुप में 744 दिन का है। मुंबई में पिछले साल फरवरी महीने में कोरोना का पहला संक्रमित मरीज मिला था, उसके बाद पूरी मुंबई हॉट स्पॉट बन गई थी। अक्टूबर के बाद से ऐसा लगने लगा था कि कोरोना पूरी तरह खत्म होने की कगार पर आ गया था, लेकिन इस साल भी फरवरी महीने के बाद से कोरोना ने फिर एक बार रंग बदला और पूरे शहर को अपनी चपेट में ले लिया। रोजाना 11 हजार से अधिक कोरोना के संक्रमित मरीज होने लगे थे।अब स्थिति काफी सुधर गई है अब रोजाना फिर एक बार पिछले साल अक्टूबर की तर्ज पर मात्र 400 के नीचे आ गई है।

तीसरी लहर की संभावना से बढ़ी चिंता

दूसरे देशों में आई तीसरी लहर से कई देश फिर एक बार लाकडाउन की ओर जा रहे हैं, जिससे केंद्र सहित राज्य सरकार भी परेशान हो रही है। चाह कर भी मॉल-थिएटर सहित आम जनता के लिए लोकल सेवा शुरू नहीं कर पा रही है। इसी तरह दुकान आदि भी पूरी तरह नहीं खुल पा रही है।

मरीन लाइन में सिर्फ  5 मरीज

कोरोना का नियंत्रण इस कदर है कि इस परिसर में मात्र कोरोना के 5 मरीज ही शेष बचे हैं। मनपा के सी वार्ड में कोरोना के कुल  6784 मरीज मिले थे, जिसमें से 6434 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं, जबकि 264 मरीजों की मौत हुई। सी वार्ड  में डबलिंग रेट 2202 दिन पहुंच गया है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget