अजित पवार की सीबीआई जांच की मांग

चंद्रकांत पाटिल ने लिखा गृहमंत्री अमित शाह को पत्र

chandrakant patil

मुंबई

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने राज्य के उपमुख्यमंत्री अजित पवार और सरकार के अन्य कई मंत्रियों की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। अमित शाह को लिखे पत्र में पाटिल ने कहा है कि 100 करोड़ वसूली मामले में जेल में बंद पूर्व पुलिस अधिकारी सचिन वझे के बयान पर सीबीआई द्वारा पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख पर की कारवाई की जा रही है। वझे ने उपमुख्यमंत्री अजित पवार और कई अन्य मंत्रियों पर वसूली में गंभीर आरोप लगाया है। अनिल देशमुख की तरह उनकी भी सीबीआई जांच होनी चाहिए।

पाटिल ने आरोप लगाया कि साल 2004 में पुलिस विभाग से निष्काषित वझे को महाविकास आघाडी सरकार आने के बाद क्यों दोबारा विभाग में बहाल कर अहम जिम्मेदारी दी गई। एनआईए की पूछताछ में वझे ने बताया है कि उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने अवैध गुटखा विक्रेताओं और उत्पादकों से 100 करोड़ रुपये वसूलने के लिए कहा था। इसके साथ सरकार में कई मंत्रियों ने मनपा के हर ठेकेदारों से दो करोड़ रुपये वसूलने के लिए कहा था।

... तो न्यायालय का दरवाजा खटखटा सकती है भाजपा

100 करोड़ वसूली मामले में उपमुख्यमंत्री अजित पवार और अन्य मंत्रियो की जांच सीबीआई से कराने की अनुमति अगर राज्य सरकार नहीं देती है तो भाजपा अदालत में जाएगी। भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष माधव भंडारी ने कहा कि राज्य की 12 करोड़ की जनता के हित के लिए जो भी कदम उठाना होगा, भाजपा उठाएगी। भंडारी ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो भाजपा न्यायालय का दरवाजा खटखटा सकती है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget