पटना-बेतिया के बीच फोर लेन सड़क का रास्ता साफ

मात्र ढाई घंटे में सफर होगा पूरा

पटना

पटना से बेतिया तक बनने वाले चार लेन को केंद्र सरकार ने एनएच का दर्जा देते हुए एनएच 139 डब्ल्यू घोषित कर दिया है। सड़क एवं परिवहन राजमार्ग मंत्रालय की ओर से अधिसूचना जारी हो गई है। 167 किमी लंबी इस सड़क के साथ ही पटना में जेपी सेतु के समानांतर फोर लेन पुल बनने का रास्ता भी साफ हो गया। पहले यह सड़क पटना से अरेराज तक बननी थी, जिसे 25 किमी और बेतिया तक विस्तार दिया गया है। इस सड़क के बनने से पटना से बेतिया की दूरी 200 किमी कम हो जाएगी और मात्र ढाई घंटे में सफर पूरा किया जा स केगा। पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने पटना-बेतिया को एनएच का दर्जा देने पर केंद्र के प्रति आभार जताया है। उन्‍होंने कहा कि जेपी सेतु के समीप बाकरपुर से मानिकपुर, साहेबगंज, केसरिया व अरेराज होते हुए बेतिया के निकट राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या- 727 को जोड़ेगी। बुद्ध सर्किट की इस सड़क के कारण राज्य के प्रमुख पर्यटक स्थल वैशाली, लौरिया एवं केसरिया का सीधा सम्पर्क हो जाएगा। पटना से बेतिया के रास्ते वाल्मीकिनगर भी आया-जाया जा सकेगा। अभी बाकरपुर से मानिकपुर, मानिकपुर से साहेबगंज, साहेबगंज से अरेराज के लिए जमीन अधिग्रहण की कार्रवाई जारी है। जबकि अरेराज से बेतिया के बीच जमीन अधिग्रहण का काम अब शुरू किया जाएगा।  पटना-बेतिया फोरलेन सड़क में सोनपुर बाईपास से माणिकपुर तक लगभग 40 किमी ग्रीनफील्ड यानी नई सड़क होगी। दो माह के अंदर टेंडर जारी होगा। तीन साल में बनने वाली इस सड़क के निर्माण पर 5300 करोड़ खर्च आएगा। इस सड़क के साथ ही जेपी सेतु के समानांतर चार लेन पुल बनने का भी रास्ता साफ हो गया। पथ निर्माण के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा ने कहा कि बिहार राज्य पुल निर्माण निगम ने इस पुल का डीपीआर बना लिया है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget